VIDEO : किसान आंदोलन में छावनी बना सीकर, कलक्ट्रेट पर धारा 144 लागू, इंटरनेट पर पाबंदी, किसान 300 जगह लगा रहे हैं जाम

किसानों का सीकर में जाम, धारा 144 लागू, इंटरनेट सेवाओं पर पाबंदी

By: vishwanath saini

Updated: 11 Sep 2017, 07:29 PM IST

सीकर. कर्जा माफी समेत विभिन्न मांगों को लेकर 11वें दिन सोमवार को किसानों की ओर से जिलेभर में  जाम किया जा रहा है। किसानों ने कलक्ट्रेट का घेराव व करीब 300 जगहों पर जाम का ऐलान कर रखा है। किसान आंदोलन को देखते हुए प्रशासन ने जिलेभर में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं। बीती रात 11 बजे से ही जिले में इंटरनेट सेवा पर रोक लगा दी गई है।

जिला मुख्यालय पर एक सितम्बर से महापड़ाव डाले बैठे किसानों ने सरकार से दसवें दिन रविवार को दिनभर चली समझौता वार्ताओं का दौर विफल रहने के बाद अनिश्चितकालीन जाम कर रहे हैं। जिले में सुबह से ही किसानों ने मुख्य रास्तों पर खंभे और पत्थर डालकर जाम लगाना शुरू कर दिया। वहीं, सीकर शहर में कृषि उपजमंडी में किसानों की एक सभा का आयोजन चल रहा है। जहां से वह कलेक्ट्रेट को घेरने के लिए कूच करेंगे।

उधर, किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए प्रशासन ने रात से ही शहर में धारा 144 लागू कर दी है। सोशल मीडिया पर अफवाहों से बचाव के लिए रात से इंटरनेट सेवाएं भी बंद कर दी गई है। इससे पहले रविवार को सरकार और किसानों के बीच समझौता वार्ताओं का दौर चला। देव स्थान मंत्री राजकुमार रिणवां किसानों से वार्ता के लिए पहुंचे थे। लेकिन, पहले दौर की वार्ता विफल होने पर किसानों ने रिणवां से दूसरे दौर की वार्ता के लिए इनकार कर दिया और सीधे मुख्यमंत्री से वार्ता की बात कही। रात को किसानों की मुख्यमंत्री से वार्ता होना भी तय हुआ। लेकिन, किसान नेताओं के मुताबिक सरकार द्वारा समय और स्थान ही तय नहीं होने पर वार्ता नहीं हो सकी।

सीकर में भारी पुलिस जाप्ता तैनात

फिलहाल किसानो के आंदोलन में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए प्रशासन ने पूरी कमर कस रखी है। बाहर से आरएसी व हाडीरानी बटालियन की चार कंपनी बुलाई गई हैं। दो कंपनी आरएसी पहले से जिले में है। जयपुर से एसटीएफ की भी एक विशेष कंपनी भेजी गई है। इसके अलावा जिले में पहले तैनात रह चुके अधिकारियों को भी वापस ड्यूटी के लिए बुलाया गया है। दूसरे जिलों से एक दर्जन थानाधिकारी सीकर भेजे गए हैं। जयपुर व जोधपुर रेंज से करीब 1500 पुलिसकर्मियों को जाप्ता भी सीकर लगाया गया है।

sikar jam photo

वार्ता के लिए नहीं बताया स्थान व समय

वार्ता विफल रहने और जाम को देखते हुए उपखंड मजिस्ट्रेट जूही भार्गव ने तीन थाना क्षेत्र व कलक्ट्रेट के दो किलोमीटर इलाके में धारा 144 लागू कर दी है। देर रात जिला कलक्टर नरेश कुमार ठकराल ने एक दिन के लिए जिलेभर में इंटरनेट सेवा पर रोक लगा दी है। रविवार शाम को किसान नेताओं को सरकार ने वार्ता का न्यौता दिया था, लेकिन किसान नेताओं का तर्क है कि सरकार ने वार्ता का स्थान और समय नहीं बताया था। इसलिए वह नहीं गए।

kisan andolan sikar

वार्ता के लिए नहीं बताया स्थान व समय

वार्ता विफल रहने और जाम को देखते हुए उपखंड मजिस्ट्रेट जूही भार्गव ने तीन थाना क्षेत्र व कलक्ट्रेट के दो किलोमीटर इलाके में धारा 144 लागू कर दी है। देर रात जिला कलक्टर नरेश कुमार ठकराल ने एक दिन के लिए जिलेभर में इंटरनेट सेवा पर रोक लगा दी है। रविवार शाम को किसान नेताओं को सरकार ने वार्ता का न्यौता दिया था, लेकिन किसान नेताओं का तर्क है कि सरकार ने वार्ता का स्थान और समय नहीं बताया था। इसलिए वह नहीं गए।

vishwanath saini Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned