scriptWeather Update Big hope from Bisalpur dam | Weather Update : बीसलपुर बांध भरा तो काम आ जाएंगे ढाई करोड़ रुपए, पढ़ें पूरी खबर | Patrika News

Weather Update : बीसलपुर बांध भरा तो काम आ जाएंगे ढाई करोड़ रुपए, पढ़ें पूरी खबर

Good News : बीसलपुर बांध में प्री-मानसून के दौरान मात्र दो घंटे की झमाझम बारिश से सात सेंटीमीटर पानी आया। उम्मीद जगी है कि मानसून में बीसलपुर बांध भरेगा और बांध के गेटों पर खर्च किए गए ढाई करोड़ रुपए वसूल हो सकेंगे।

सीकर

Updated: June 21, 2022 11:20:16 am

Good News : बीसलपुर बांध में प्री-मानसून के दौरान मात्र दो घंटे की झमाझम बारिश से सात सेंटीमीटर पानी आया। इस बार उम्मीद है कि बांध पर चादर चलेगी और जयपुर व अजमेर सहित अन्य जिलों को जमकर पानी मिलेगा। उधर, बांध भरेगा और गेटों पर खर्च किए गए ढाई करोड़ रुपए वसूल हो सकेंगे।

bisalpur_dam1_4979776_835x547-m.jpg

स्काडा लगाया तब से नहीं चली चादर
जल संसाधन विभाग ने बीसलपुर बांध पर वर्ष 2020 में सर्विलेंस कंट्रोलिंग एंड डाटा इक्विजेशन (स्काडा) सिस्टम लगवाया था ताकि बांध के सभी 18 गेटों को कम्प्यूटर से खोलकर पूरा डाटा सेव किया जा सके। लेकिन अफसोस इस बात का है कि जब से स्काडा लगाया, बांध पूरी तरह भरा ही नहीं। कोटा कि एक निजी फर्म को काम दिया गया और अब तक फर्म के कर्मचारी बांध पर चादर चलने का इंतजार कर रहे हैं ताकि पता चल सके कि बांध के गेट कम्प्यूटराइज्ड तरीके से खोले जा सकते हैं या नहीं। बड़ी बात तो यह भी है कि स्काडा लगाने के बाद तय हुआ था कि पांच साल तक सिस्टम का रख-रखाव कम्पनी करेगी और यह तीसरा साल होगा।

बांध पर सभी तैयारी पूरी
जल संसाधन विभाग की माने तो बांध के रख-रखाव पर एक माह के भीतर करीब 11 लाख रुपए खर्च किए गए हैं। इसके अलावा बांध पर स्थानीय बारिश से दो इंच पानी की आवक होने के बाद उम्मीद बढ़ी है कि इस बार चादर जरूर चलेगी। प्री-मानसून की झमाझम के बाद वायरलेस सेंटर शुरू कर दिए गए हैं। विभाग ने दिगोद, बनेड़ा, बीसलपुर और देवली में सेंटर शुरू कर दिया है, जो 2-2 कमर्चारी 24 घंटे ड्यूटी दे रहे हैं।

बांध पर अब तक पांच बार चली चादर
बीसलपुर बांध पर अब तक पांच बार चादर चल चुकी है और इस बार भी चादर चलने की उम्मीद रहेगी। जल संसाधन विभाग की माने तो वर्ष 2004 में पहली बार चादर चली थी। उसके बाद वर्ष 2006, 2014, 2016 और वर्ष 2019 में चादर चली थी। पिछली बार चादर चलने के दौरान जल संसाधन विभाग को बांध के सभी गेट खोलने पड़े थे। करीब 20 दिन तक बांध से पानी बाहर निकाला गया था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बिहार कैबिनेट पर दिल्ली में मंथन, आज शाम सोनिया गांधी से मिलेंगे तेजस्वी यादव, 2024 के PM कैंडिडेट पर बोले नीतीश कुमारCoronavirus News Live Updates in India : राजस्थान में एक्टिव मरीज 4 हजार के पारडिप्टी सीएम बनने के बाद आज पहली बार लालू यादव से मिलेंगे तेजस्वी यादव, मंत्रालयों के बंटवारे पर होगी चर्चाRajasthan BSP : 6 विधायकों के 'झटके' से उबरने की कवायद, सुप्रीमो Mayawati की 'हिदायत' पर हो रहा कामJammu Kashmir: कश्मीर में एक और बिहारी मजदूर की हत्या, बांदीपोरा में आतंकियों ने मोहम्मद अमरेज को मारी गोलीबिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 'बिहार वृक्ष सुरक्षा दिवस' कार्यक्रम में हुए शामिल, पेड़ को बांधी राखी, कहा - वृक्ष की भी होनी चाहिए रक्षाअमरीका: गर्भपात के मामले में फेसबुक ने पुलिस से शेयर की माँ-बेटी की चैट हिस्ट्री, अमरीका से लेकर भारत तक रोष, निजता के अधिकार पर उठे सवालLegends league के लिए पाकिस्तानी क्रिकेटरों को वीजा देगा भारत?, BCCI अधिकारी ने कही ये बात
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.