अवैध संबंधों में बाधा बने पति को यूं उतारा मौत के घाट, फिर खून से रंगे हाथ लिए घूमती रही ये बेवफा पत्नी

vishwanath saini

Publish: Feb, 15 2018 10:39:32 AM (IST) | Updated: Feb, 15 2018 11:33:22 AM (IST)

Sikar, Rajasthan, India
अवैध संबंधों में बाधा बने पति को यूं उतारा मौत के घाट, फिर खून से रंगे हाथ लिए घूमती रही ये बेवफा पत्नी

सीकर थाना इलाके के गांव मोल्यासी में 12 सितम्बर 2015 की रात को पति की हत्या के मामले में कोर्ट ने पत्नी सुनाई उम्रकैद की सजा।

सीकर. अवैध संबंधों में बाधा बने पति का रस्सी से गला घोंटा बाद में गंडासे से वार कर उसकी हत्या करने वाली पत्नी को अपर सेशन न्यायालय क्रम संख्या- दो सीकर ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। मामले में अभियोजन पक्ष की ओर से 27 साक्ष्य पेश किए गए।

 

मैंने उसे सलटा दिया

मामले के अनुसार सीकर सदर थाना इलाके के मोल्यासी गांव के रामचन्द्र की पत्नी सुमन ने 12 सितम्बर 2015 की रात को पहले अपने पति का रस्सी से गला घोंटा। बाद में गंडासे से वार कर पति रामचन्द्र की हत्या कर दी। खून से सने कपड़ों में सुमन जेठ के घर पहुंची और बोली कि मैने आज उसे सलटा दिया। बाद में जेठ भंवरलाल ने मामले की सूचना पुलिस को दी। भंवरलाल ने सुमन व अन्य के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करवाया। मामले में पुलिस ने जांच कर आरोपित सुमन के खिलाफ चालान पेश किया।

पत्नी को माना हत्या का दोषी

मामले में पेश साक्ष्यों के आधार पर न्यायालय ने सुमन को दोषी माना। मामले में आरोपित की ओर से दलील दी गई कि उसके दो छोटी बच्चियां है। जिनकी देखभाल करने वाला कोई नहीं है। अपर लोक अभियोजक ने कहा कि आरोपित सुमन ने अवैध संबंधों के कारण अपने पति की हत्या जैसा जघन्य अपराध किया है।

25 हजार रुपए का जुर्माना भी

मामले में अपर सेशन न्यायाधीश क्रम संख्या दो नीरज भारद्वाज ने सुमन को आजीवन कारावास की सजा व 25 हजार रुपए के जुर्माने की सजा सुनाई है। राज्य सरकार की ओर से पैरवी अधिवक्ता अपर लोक अभियोजक भगवत सिंह व परिवादी की ओर से अधिवक्ता राजेश माथुर ने पैरवी की।

रात को आया एक युवक
सुमन देवी और उसका पति रामचन्द्र खेत में घर बनाकर रहते थे। वारदात की रात को एक युवक भी सुमन के घर आया था। हत्या के बाद पुलिस को वारदात की वजह गृह क्लेश बताई गई, मगर मामले की जांच में अवैध संबंधों की बात भी सामने आई।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned