बूढ़ी गणगौर की पूजा कर मांगी कामना

सीकर/श्रीमाधोपुर. सुहाग व परिवार की लंबी उम्र व सुखी-समृद्ध जीवन की कामना करते हुए सुहागिनों ने शिव-पार्वती स्वरूप ईसर व गणगौर की प्रतिमा के सामने हाथ जोड़ पूजा की।

By: Ashish Joshi

Published: 17 Apr 2021, 11:06 AM IST

सीकर/श्रीमाधोपुर. सुहाग व परिवार की लंबी उम्र व सुखी-समृद्ध जीवन की कामना करते हुए सुहागिनों ने शिव-पार्वती स्वरूप ईसर व गणगौर की प्रतिमा के सामने हाथ जोड़ पूजा की। महेन्द्र व बृजेन्द्र जोशी ने बताया कि कोरोना की दूसरी लहर के चलते नायन का जोशी हवेली के चौक में ही सोशल डिस्टेंसिंग के साथ बूढ़ी गणगौर का पूजन किया गया। इस मौके पर ये कामना की गई कि कोरोना वायरस के संकट से परिवार, देश व दुनिया सभी को शीघ्र मुक्ति मिले। इस बार भी ना तो गणगौर की सवारी निकाली गई और ना ही गणगौर का मेला भरा। कोरोना वायरस संक्रमण का खतरा होने से इस बार उषा, पुष्पा, संतोष, कृष्णा, प्रतिभा सहित कई महिलाओं ने घर पर ही गणगौर की पूजा की।

------------------------

रमजान के पहले जुम्मे पर घरों में नमाज अदा की
श्रीमाधोपुर. पाक रमजान के महीने में भीषण गर्मी में तडक़े से शाम तक भूखे-प्यासे रहकर रोजेदार सब्र का इम्तिहान दे रहे हैं। कोरोना की दूसरी लहर के चलते घरों में ही नमाज अदा की जा रही है। माह ए रमजान के पहले जुम्मे को मुस्लिम मोहल्ले में फजर की नमाज के साथ ही चहल-पहल शुरू हो रही है। घरों में सहरी के बाद रोजे की नीयत कर रहे हैं। पहले जुम्मे पर शाम को खजूर और शरबत के साथ रोजा खोला गया। मकबूल कुरैशी ने बताया कि रमजान में मुस्लिम धर्मावलंबियों द्वारा पांचों समय की नमाज अदा की जाती है। इस अवधि में कुरआन की तिलावत की जाती है।

Ashish Joshi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned