अनूठी शादी: बिना सेहरे के दूल्हा ले गया अपनी दुल्हनिया

अनूठी शादी: बिना सेहरे के दूल्हा ले गया अपनी दुल्हनिया

Vishwanath Saini | Publish: Apr, 17 2018 02:50:26 PM (IST) Sikar, Rajasthan, India

आज के युवा लोग अपनी शादी में अच्छा दिखने के लिए शादी के कुछ दिन पहले ही शोपिंग शुरू कर देते हैं

 

सादुलपुर. आज के युवा लोग अपनी शादी में अच्छा दिखने के लिए शादी के कुछ दिन पहले ही शोपिंग शुरू कर देते हैं जहां तक कपड़ों का सवाल है उनमें शेरवानी,धोती कुर्ता,साफा, सेहरा और भी कई वस्तुएं है जो वे खरीदना नही भूलते और शादी में अगर बैंड बाजा ना हो ऐसा तो हो ही नही सक ता। इस वक्त के फैश्नेबल जमाने में दुल्हा अपनी शादी में कोई कमी नही चाहता वो अपनी शादी को यादगार बनाने में अनाप शनाप खर्च का देते हैं लेकिन इस दूल्हे ने अपनी शादी में ऐसा कुछ ना कर समाज में अपनी शादी को एक अलग पहचान दिलाई साथ ही साथ एक अनोखा संदेश भी दिया ,तो आइए जानते हैं कौन है ये दूल्हा जो बिना सेहरे के ले गया अपनी दुल्हनिया.....

-सूरतपुरा निवासी प्रकाश गांव बुंगी बारातियों के साथ पहुंचे और बलवानसिंह सिहाग की पुत्री कविता के संग बिना दहेज के विवाह किया।

- सिहाग ने बताया कि सगाई के वक्त ही दुल्हे के पिता श्रवण से इस संबंध में बात की तो उन्होंने सहर्ष प्रस्ताव को स्वीकार कर बिना दहेज शादी कर एक अनूठा उद्हारण प्रस्तुत किया।

-न बैण्ड बाजा न घोड़ी, बिना सेहरे के आए दूल्हे ने बिना दहेज के शादी कर बिना दिखावें और आडंबर के साथ रविवार को हो हुए इस आदर्श विवाह के ग्रामीण साक्षी बनें।

 

 

 

सुजला जिला बनाने के लिए धरना 103वें दिन रहा जारी
सुजानगढ़. सुजला जिला बनाने की मांग को लेकर महासत्याग्रह समिति की ओर से शुरू किया गया धरना सोमवार को 103वें दिन जारी रहा। इस मौके पर पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने एसडीएम कार्यालय के सामने नारेबाजी की। धनराज आर्य ने कहा कि मांग पूरी नहीं होने तक संघर्ष जारी रहेगा। कांग्रेस के जिला प्रवक्ता मोहम्मद इदरीश गौरी, पार्षद इकबालखां ने भी विचार व्यक्त किए।
कार्यकारी संयोजक विजयपाल श्योराण ने बताया कि मधुसूदन अग्रवाल के नेतृत्व में दिए गए धरने के दौरान अर्जुनसिंह राठौड़, राजकुमार नाई, शेरसिंह भाटी, नरेंद्र गुर्जर व किशोरदास स्वामी आदि ने नारेबाजी की।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned