पश्चिम बंगाल निवासी महिला ने श्याम बाबा के दर्शन कर त्यागे प्राण, पद यात्रा कर पहुंची थी श्याम दरबार

खाटूश्यामजी के मेले का आज चौथा दिन है। देश विदेश से श्रद्धालु बाबा श्याम के दर्शनों के लिए पहुंच रहे हैं।

By: Sachin

Updated: 01 Mar 2020, 11:56 AM IST

सीकर. खाटूश्यामजी के मेले (Khatushyamji fair 2020) का आज चौथा दिन है। देश विदेश से श्रद्धालु बाबा श्याम के दर्शनों के लिए पहुंच रहे हैं। इसी बीच बाबा श्याम के दर्शनों के लिए खाटू पहुंची एक महिला श्रद्धालु की बाबा श्याम के दर्शनों के बाद मौत हो गई। श्रद्धालु महिला पश्चिमी बंगाल के सिलीगुड़ी शहर की रहने वाली 55 वर्षीय सुनिता अग्रवाल थी। जो अपने पति व बच्चों के साथ खाटूश्यामजी मेले में आई थी।

रींगस पहुंचने के बाद महिला ने परिवार सहित रींगस से खाटूश्यामजी की पद यात्रा की थी। करीब 16 किलोमीटर की पैदल यात्रा के बाद उसने शुक्रवार रात को बाबा श्याम के दर्शन किए। लेकिन, सुबह ही अचानक से उसके सीने में दर्द हुआ। जिसकी जानकारी उसने परिजनों को दी। परिजन उसे नजदीकी सरकारी अस्पताल लेकर गए। लेकिन, तब तक बहुत देर हो चुकी थी। उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया था। अस्पताल पहुंचते ही चिकित्सकों ने उसेे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मृतका का पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया। बाबा श्याम के दरबार में प्राण त्यागने को लोग मोक्ष का सबब कह रहे हैं।

भिक्षावृत्ति करते 6 बच्चे दस्तियाब
मानव तस्करी यूनिट और चाइल्ड लाइन द्वारा खाटू मेले में भिक्षावृत्ति करते हुए 6 बच्चों को दस्तयाब किया गया। इस कार्यवाही में मानव तस्करी यूनिट से पूर्णसिंह, मनोज कुमार, रविंद्र एवं चाइल्ड लाइन ने कार्यवाही करते हुए बच्चों को बाल कल्याण समिति के सदस्य गजेंद्र सिंह चारण के समक्ष पेश किया। जहां बच्चों के परिजनों को बुलाकर के उनसे शपथ पत्र भरवा करके और भविष्य में भिक्षावृत्ति नहीं करवाने के लिए पाबंद किया गया। एक बच्चे को परमार्थ सेवा संस्थान में प्रवेश दिया गया। बाकी 5 बच्चों को परिजनों को सुपुर्द किया गया। विगत तीन दिन से खाटू मेले में 14 बच्चों का भिक्षावृत्ति में रेस्क्यू किया गया।

टीम ने लिए खाद्य पदार्थो के नमूने
इधर, मेले में मिलावटखोरों पर लगाम कसने के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम मुस्तैेद नजर आ रही है। कलक्टर व सीएमएचओ के निर्देश पर शनिवार को 6 दुकानों पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने खाद्य पदार्थो के नमूने लिए। खाद्य निरीक्षक रतन गोदारा ने बताया कि प्रेरणा फास्ट फूड से बटर, मिलन भोजनालय से सोयाबीन तेल, शेखावाटी मिष्ठान भंडार और बालाजी मिष्ठान भंडार से मावा व पेड़े के सेंपल लिए एवं सभी दुकानदार को साफ सफाई रखने व मिलावटी समान नही बेचने की सख्त हिदायत दी गई। वहीं सीओटीपीए टीम ने सार्वजनिक स्थानों पर ध्रूम्रपान करने पर सीएचसी व बस डीपो पर दस लोगों के चालान काटे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned