महिला कांस्टेबल की मौत के बाद भी पुलिस बताती रही जिंदा, जानिए क्या है वजह

आत्महत्या का प्रयास करने वाली महिला कांस्टेबल सुमित्रा की बुधवार सुबह उपचार के दौरान मौत हो गई थी। लेकिन, मौत की सूचना पर पुलिस दोपहर तक परदा डालती रह

By: Vinod Chauhan

Published: 24 May 2018, 08:40 AM IST

सीकर.

पुलिस लाइन में जहर खाकर आत्महत्या का प्रयास करने वाली महिला कांस्टेबल सुमित्रा की बुधवार सुबह उपचार के दौरान मौत हो गई थी। लेकिन, मौत की सूचना पर पुलिस दोपहर तक परदा डालती रही। इसके बाद शव का पोस्टमार्टम करवा कर उसके ससुराल पक्ष के हवाले कर दिया गया।
सीकर पुलिस लाइन में जहर खाने के बाद ड्यूटी के लिए उद्योग नगर थाने पहुंची महिला कांस्टेबल सुमित्रा की हालत गंभीर होने पर उसे जयपुर एसएमएस में रैफर कर दिया गया था। जहां इलाज के दौरान सुबह ही उसकी मौत हो गई थी। जिसकी जानकारी महिला कांस्टेबल के परिजनों ने पुलिस नियंत्रण कक्ष में बता दी थी। लेकिन, जब नियंत्रण कक्ष से कांस्टेबल की जानकारी मांगी गई तो यहां कंट्रोल रूम में बैठी महिला कांस्टेबल सुशीला का कहना था कि सुमित्रा जिंदा है उसकी मौत की सूचना उसके पास नहीं है। इधर, जब उद्योग नगर के एसएचओ राममनोहर से बात की गई तो उनका भी यही जवाब था कि मौत की सूचना उनके पास नहीं है, पूछकर बताता हूं।

 

Read More :

RBSE results 2018 : कांस्टेबल के होनहार ने 98.60 फीसदी अंक के साथ किया टॉप, स्कूल में मनाया जश्र तो घर में बांटी मिठाइयां


जयपुर में पोस्टमार्टम
सीकर से जयपुर पहुंचे कल्याण सर्किल चौकी इंचार्ज संजय पूनिया ने बताया कि महिला कांस्टेबल की मौत के बाद शव उसके ससुराल पक्ष को सौंपा गया है। इस संदर्भ में अभी किसी की तरफ से कोई रिपोर्ट नहीं दी गई है। एसआई का कहना था कि सुमित्रा की मौत की सूचना सुबह ही परिजनों ने दे दी थी। जहर खाने के बाद महिला कांस्टेबल ने इसकी सूचना सबसे पहले अपने फौजी पति पवन को ही दी थी।

 

Read More :

सीकर के उद्योग नगर पुलिस थाने की महिला कांस्टेबल ने जहर खाकर दी जान

Lady Constable ने ये काम करके फौजी पति को WhatsApp पर लिखा-लो कर दी तुम्हारी इच्छा पूरी

Vinod Chauhan
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned