आपके यहां डिलीवरी होने वाली है...सरकारी सहायता आपके खाते में जमा करा रहे हैं...अकाउंट नम्बर व ओटीपी बताएं...!

आपके यहां डिलीवरी होने वाली है...सरकारी सहायता आपके खाते में जमा करा रहे हैं...अकाउंट नम्बर व ओटीपी बताएं...!

Gaurav kanthal | Publish: Jun, 10 2019 06:10:05 PM (IST) Sikar, Sikar, Rajasthan, India

ठगी का नया रास्ता। प्रसव सहायता के नाम पर हो रही ठगी है। ठग गर्भवतियों का डाटा लेकर उन्हें फोन कर ओटीपी से खाली कर रहे हैं अकाउंट।

दांतारामगढ़(सीकर). गर्भवती महिलाएं या प्रसव हुई महिलाएं व उनके परिजन सावधान रहे। ठगों ने अब ऐसी औरतों को निशाना बनाना शुरू कर दिया है जिनके प्रसव हो चुका या होने वाला है। ठगों ने स्वास्थ्य विभाग व आंगनबाड़ी से डाटा चुरा कर ऐसी महिलाओं व उनके परिजनों से प्रसव सहायता ऑनलाइन भेजने के नाम पर ठगी कर रहे हंै।
दांतारामगढ़ इलाके के डांसरोली गांव में तीन परिवार ठगी का शिकार हो चुके हैं। डांसरोली में मनभरी देवी कुमावत की पुत्र वधू के प्रसव होने वाला है। शनिवार को मनभरी देवी के मोबाइल पर कॉल आया कि आप डांसरोली से बोल रहे हैं। आपके परिवार में राजूदेवी के डिलेवरी होने वाली है। इसके लिए सरकार से जो सहायता दी जाने वाली है वो रूपए आपके खाते में जमा करवा रहे हैं। इसके लिए आपके खाता नम्बर व एटीएम नम्बर बताए। इसके बाद ओटीपी पूछे और पांच हजार रूपए निकाल लिए। दूसरा कॉल राजकुमार सैनी के मोबाइल पर आया तो उसने पूछा आप कहां से बोल रहे हैं तो ठग ने अपना नाम डॉ. आर.के.सिन्हा तथा सदर हॉस्पिटल हैड ब्रांच जयपुर से बोलना बताया। ठग ने बताया कि आपने बच्ची का फार्म भरा था न इसके बाद उक्त व्यक्ति ने अपने वाट्सअप नम्बर 7050387365 बताया और इन नम्बरों पर खाता नम्बर, आधार कार्ड, पेन कार्ड व एटीएम की दोनों तरफ से फोटो मंगवाई। राजकुमार के खाते में एक हजार तथा एक अन्य के खाते से पांच सौ रूपए ही निकाल लिए।
उधर सामाजिक कार्यकर्ता दिनेश कुमावत ने बताया कि डांसरोली में गर्भवती महिलाओं या उनके परिजनों के पास बाकायदा महिला की पूरी डिटेल है कि उसके कौनसा महीना चल रहा है। हैड ऑफिस जयपुर के नाम से प्रधानमंत्री मातृत्व सहायता देने के नाम पर कॉल आ रहे हंै और वाट्सअप नम्बरों पर खाता नम्बर, आधार कार्ड, पेन कार्ड व एटीएम की दोनो तरफ से फोटो मंगवाई जा रही है और जिसने भेज दी उसका खाता साफ कर लिया जाता है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned