मोस्ट वांटेड ने सूचना पुलिस को देने वाले युवक की घर से अपहरण कर की हत्या, रास्ते पर फेंका शव

राजस्थान के सीकर जिले के नीमकाथाना कस्बे के नयाबास में शुक्रवार रात को बदमाशों ने एक युवक का घर से अपहरण कर उसकी हत्या कर दी। घटना के बाद शव को गांव के पास ही रास्ते पर फेंक दिया।

By: Sachin

Updated: 18 Apr 2020, 10:44 PM IST

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले के नीमकाथाना कस्बे के नयाबास में शुक्रवार रात को बदमाशों ने एक युवक का घर से अपहरण कर उसकी हत्या कर दी। घटना के बाद शव को गांव के पास ही रास्ते पर फेंक दिया। सूचना मिलने पर शनिवार सुबह पुलिस मौके पर पहुंची। जिसने शव को कब्जे में लेकर राजकीय कपिल अस्पताल के मुर्दाघर में रखवाया। जहां मेडिकल बोर्ड से शव को पोस्टमार्टम करवाया। सूचना पर पुलिस अधीक्षक डॉ गगनदीप सिंगला, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दिनेश अग्रवाल, पुलिस उपाधीक्षक बनवारी लाल धायल, रींगस पुलिस उपाधीक्षक बलराम मीणा कोतवाली थाना पहुंचे। बकौल एसपी सिंगला आरोपियों व मृतक की पिछले कई दिनों से आपसी में रंजिश चल रही थी। इसी को लेकर आरोपियों ने मृतक का अपहरण कर उसकी हत्या कर दी। पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी है। शहर कोतवाल करण सिंह खंगारौत ने बताया कि मृतक की मां आंची देवी ने रिपोर्ट दी है कि बांड्या नाला निवासी विकास मीणा, नयाबास निवासी लक्की, आकाश, दशरत व राजू भाट सहित एक अन्य बदमाश रात करीब 10 बजे एक जीप में सवार होकर आए थे, जो उसके बेटे रामरतन का अपहरण कर ले गए। उन्होंने रामरतन की हत्या कर दी।


पहले भी हो चुका है मृतक का अपहरण


बताया जा रहा है कि मुख्य आरोपी विकास मीणा शहर कोतवाली सहित कई थानों में शराब ठेका लूट में वांटेड चल रहा है। इसकी गांव में आने की सूचना मृतक ने एक बार पुलिस को दी थी। इसी रंजिश में आरोपियों ने तीन महीने पहले भी मृतक का अपहरण किया था। जिसे मारपीट के बाद वह नवलगढ़ में पटक गए थे।

 

इनका कहना है....


मृतक का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवा कर शव परिजनों को सौंप दिया गया। मृतक की मां ने नामजद आरोपियों के खिलाफ कोतवाली थाना में रिपोर्ट दर्ज करवाई है। पूरी कोशिश की जा रही है आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाए। उसके लिए पुलिस की अलग-अलग टीमें चारों तरफ दबीश दे रही है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned