अभी पुराने बारदाने से चलेगा काम, नए के लिए अभी इंतजार, खरीद केंद्रों से धान उठाव की तैयारी

26 हजार टन धान भर्ती तक मिलेगा राहत.....

सिंगरौली. समर्थन मूल्य पर खरीदशुदा धान का खरीद केंद्रों से उठाव के लिए आरंभ में पुराने बारदाने से काम चलाना होगा। शासन के स्तर पर एेसी ही व्यवस्था की गई है। इसके तहत शासन की ओर से जिला मुख्यालयों के लिए गाइड लाइन जारी की गई है। इसमें धान उठाव के लिए 40 प्रतिशत पुराना बारदाना उपयोग करने का निर्देश दिया गया है। राहत की बात है कि यहां जिले में पिछली खरीद का बचा बारदाना खरीद व्यवस्था की निगरानी वाले विभाग के पास भंडार में उपलब्ध है। बताया गया कि आरंभ में खरीदशुदा 25 हजार टन धान में उपयोग के लिए पुराना बारदाना स्टाक में सुरक्षित है। इसलिए खरीद एजेंसी व विभाग राहत में हैं। हालांकि मांग के अनुसार नए बारदाने की खेप भी जल्द मिलने की संभावना जताई जा रही है।

बताया गया कि शासन की ओर से जिले में समर्थन मूल्य पर खरीदे गए धान के खरीद केंद्र या मंडी से उठाव के लिए 40 प्रतिशत पुराना व 60 प्रतिशत नया बारदाना उपयोग करने का निर्देश दिया गया है। इसके तहत जिले में खरीद की निगरानी के लिए जिम्मेदार विभाग के पास अभी 26 हजार टन धान के उठाव के लिए पुराना बारदाना स्टाक में बताया गया है। आरंभ में खरीद होने वाले धान की भर्ती में इसी पुराने बारदाने का उपयोग किया जाएगा। इसलिए धान की बंपर आवक शुरू होने के बाद आपूर्ति व सहकारिता विभाग खरीद केंद्रों व मंडी से धान का उठाव पुराने बारदाने के सहारे करने वाले हैं। बताया गया कि लगभग 30 हजार टन और उठाव के लिए पुराने बारदाने की मांग की गई है। इसकी खेप मिलने के बाद ही जिले को नए बारदाने का स्टाक जारी किया जाएगा। इस प्रकार खरीद की पूरी प्रक्रिया को संपन्न कराया जाएगा।

सतना व रीवा से आएगा बारदाना
बताया गया कि सतना व रीवा से बारदाना परिवहन कर यहां पहुंचाने संबंधी कार्य का हाल में टेंडर हो गया है। इसके तहत टेंडर लेने वाली फर्म की ओर से ट्रक जैसे बड़े वाहनों में सतना व रीवा से बारदाना यहां पहुंचाया जाएगा। बताया गया कि इस फर्म को बारदाना परिवहन का कार्यादेश जारी होना है। बताया गया कि अधिकारी स्तर से संबंधित फर्म को 15 दिसंबर से काम शुरू करने का मौखिक निर्देश दिया गया है। इस बीच ही संबंधित फर्म से अनुबंध व इसके बाद कार्यादेश जारी करने की प्रक्रिया पूरी कर लिया जाना तय किया गया है। उल्लेखनीय है कि जिले में खरीफ के चालू सीजन में समर्थन मूल्य पर लगभग तीन लाख क्विंटल धान की खरीद होने का अनुमान है।

Amit Pandey
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned