स्कूल में कक्षा के बाहर ऐसे कार्य में व्यस्त मिली छात्राएं कि स्थिति देख भौचक रह गईं एडीएम

प्राचार्य पर की तत्काल कार्रवाई...

By: Ajeet shukla

Updated: 19 Jan 2019, 10:13 PM IST

सिंगरौली. शासकीय स्कूलों में शनिवार को शैक्षणिक गतिविधियों की उस समय पोल खुल गई, जब अपर कलेक्टर ऋजु बाफना औचक निरीक्षण में पहुंच गई। निरीक्षण के दौरान जहां एक स्कूल में छात्राएं पढ़ाई करने के बजाए स्कूल की रसोई में पूड़ी बनाती मिली। वहीं दूसरी ओर कई स्कूलों में प्राचार्य व शिक्षक नदारद मिले।

टीकाकरण अभियान में भी लापरवाही देखने को मिली। खफा अपर कलेक्टर ने प्राचार्य व शिक्षक सहित बीएमओ व बीपीएम के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। साथ ही मध्याह्न भोजन की जिम्मेदारी संभालने वाली कई स्वयं सेवी संस्थाओं को बाहर का रास्ता दिखा दिया है।

स्कूलों में शिक्षकों के अनुपस्थिति संबंधित लगातार मिल रही शिकायतों के मद्देनजर अपर कलेक्टर शनिवार को औचक निरीक्षण का निर्णय लिया और बिना किसी सूचना के स्कूलों का अवलोकन करने निकल पड़ी। निरीक्षण के दौरान ऋजु बाफना ने न केवल शैक्षणिक गतिविधि का अवलोकन किया। बल्कि मिजल्स रूबेला अभियान के तहत स्कूलों में हो रहे टीकाकरण की स्थिति से भी रूबरू हुईं।

निरीक्षण के दौरान एडीएम ने शासकीय विद्यालय खुटार, रजमिलान, रैला सरई व दुधमनियां सहित अन्य कई विद्यालयों का निरीक्षण किया।शासकीय हायर सेकंडरी स्कूल रजमिलान में एडीएम को केवल दो शिक्षक उपस्थित मिले। प्राचार्य सहित छह शिक्षक अनुपस्थित पाए गए।निर्देश पर इन सभी को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

मध्याह्न भोजन में नहीं मिली गुणवत्ता
कलेक्टर की ओर से मीजल्स रूबेला टीकाकरण के पूर्व मध्याह्न भोजन में खीर-पूड़ी परोसे जाने का निर्देश जारी किया गया है, लेकिन निरीक्षण के दौरान प्राथमिक शाला रैला व दुधमनियां सहित कईशालाओं में सामान्य भोजन परोसा हुआ पाया गया। रैला प्राथमिक शाला में एडीएम को छात्राएं पूड़ी बनाती हुई मिली। जिसे देखकर कर अपर कलेक्टर बिफर गईं।

कारण बताओ नोटिस किया जारी
उन्होंने प्रधानाध्यपाक को जहां कारण बताओ नोटिस जारी करने का निर्देश दिया है। वहीं संचालित समूह को निरस्त करने को निर्देशित किया है। इसके अलावा अन्य दूसरी शालाओं में भी गुणवत्तापूर्ण भोजन देखने को नहीं मिला। उन समूहों को भी बाहर का रास्ता दिखाया गया है।

बीएमओ व बीपीएम पर कार्रवाई का निर्देश
मीजल्स रूबेला टीकाकरण के कार्य में लापरवाही बरतने के फलस्वरूप देवसर ब्लॉक मेडिकल ऑफीसर डॉ. सीएल सिंह को कारण बताओ नोटिस व बीपीएम रामायण शुक्ला का वेतन काटने का निर्देश, पीएमडब्ल्यू सरई का एक वेतन वृद्धि रोकने का निर्देश दिया है। भ्रमण के दौरान मुख्य स्वास्थ्य चिकित्सा अधिकारी आरपी पटेल सहित स्वास्थ्य व शिक्षा विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे।

Ajeet shukla Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned