समितियों पर लगी लगाम : खरीद में नहीं चलेगी मनमानी, तौल में देरी पर होगी कार्रवाई

अधिकारियों ने जारी किया निर्देश.....

By: Amit Pandey

Published: 08 Dec 2019, 03:24 PM IST

सिंगरौली. खरीफ के चालू सीजन में समर्थन मूल्य पर धान की खरीद शुरू होने व केंद्रों पर फसल आवक में देरी के बीच जिले में खरीद केंद्र संचालित कर रही समितियों की लगाम कसी गई है। जिले मंे धान की खरीद के लिए शुरू किए गए सभी 28 केंद्र ग्राम समितियां संचालित कर रही हैं। इन समितियों के खरीद केंद्रों पर कुछ दिन बाद बड़ी मात्रा में धान की आवक शुरू होने पर मचने वाली आपाधापी को रोकने को लेकर जिला मुख्यालय पर चिंता है। एेसी स्थिति पर नियंत्रण के लिए आपूर्ति व सहकारिता विभाग अधिकारी हर उपाय आजमा रहे हैं।

बताया गया कि खरीद में समितियों की मनमानी व फसल के तोल में कथित गड़बड़ी को टालने के लिए सभी समिति सचिवों व पदाधिकारियों को पाबंद किया गया है। अधिकारी सूत्रों ने बताया कि खरीद केंद्र पर फसल लेकर आने वाले हर किसान की आवक दर्ज करने और धान का तत्परता से तोल करने के लिए सभी केंद्र सचिवों को पाबंद किया गया है। तोल में अनावश्यक देरी की शिकायत या एेसा मामला पाए जाने पर संबंधित केन्द्र सचिव को कड़ी कार्रवाई के लिए चेताया गया है। केंद्र संचालक सभी सचिवों को धान के तोल में देरी के लिए संबंधित किसान व अधिकारियों को उचित कारण बताना अनिवार्य किया गया है।

खरीद के लिए बनाए गए हैं 28 केंद्र
आपूर्ति व सहकारिता विभाग की ओर से यह व्यवस्था भी लागू की गई है कि हर केंद्र सचिव अपने यहां आए व तोल हो चुके धान की मात्रा और किसान के संबंध में संपूर्ण सूचना रोज शाम जिला मुख्यालय पर इन विभागों को देगा। अधिकारियों का मानना है कि इससे खरीद केंद्रों पर सचिव या अन्य प्रभावशाली व्यक्ति की मनमानी पर अंकुश लगेगा और खरीद व्यवस्था का सुचारू संचालन हो सकेगा। उल्लेखनीय है कि जिले में 28 केंद्रों पर दो दिसंबर से समर्थन मूल्य पर धान की खरीद शुरू हुई है पर आवक कम है।

Amit Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned