scriptCoal company NCL supplied 38 railway rakes in Singrauli | एनसीएल ने एक दिन में किया सर्वाधिक कोयला प्रेषण | Patrika News

एनसीएल ने एक दिन में किया सर्वाधिक कोयला प्रेषण

4.1 लाख टन कोयला आपूर्ति कर तोड़ा रिकॉर्ड ....

सिंगरौली

Published: October 29, 2021 01:00:31 am

सिंगरौली. कोल इंडिया लिमिटेड की अनुशंगी कंपनी नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एनसीएल) ने बुधवार को अपना पिछला सभी रिकॉर्ड तोड़ते हुए कोयला उपभोक्ताओं को एक दिन का सबसे अधिक 4.1 लाख टन कोयला आपूर्ति किया है।
Coal company NCL supplied 38 railway rakes in Singrauli
Coal company NCL supplied 38 railway rakes in Singrauli
कंपनी ने पिछले 2 महीनों में अंदर तीन बार 3.87 लाख टन, 4 लाख टन और अब 4.1 लाख टन कोयला एक दिन में भेजा है। इस तरह से दो महीनों के भीतर कंपनी ने अपना ही रिकॉर्ड दो बार तोड़ दिया है। माना जा रहा है कि कंपनी एक दिन में अभी और अधिक कोयला भेजने की कोशिश में है। यानी एक बार अभी और यह रिकॉर्ड टूट सकता है।
एनसीएल अधिकारियों के मुताबिक बुधवार को भारतीय रेलवे की 38 रेक से कोयला ग्राहक कंपनियों को भेजा गया है। इसके अलावा अब तक के सर्वाधिक एमजीआर (मेरी गो राउंड) से 80 कोयला रेक थर्मल पावर प्लांट्स को भेजा जा चुका है। मेरी गो राउंड एक पर्यावरणीय अनुकूल कोयला परिवहन माध्यम है जो खदानों से बिजली संयंत्रों तक खुद की रेलवे लाइन का उपयोग कर खुद के रेक से भेजा जाता है।
बढ़ते कोयला मांग को पूरा करते हुए एनसीएल ने बुधवार को देश भर के विभिन्न उपभोक्ताओं को कुल 118 कोयला से भरी हुई रेक भेजीं हैं, जिनमें 80 एमजीआर और 38 आइआर यानी इंडियन रेलवे की रेक शामिल है। देश की कोयला आवश्यकता को पूरा करते हुए एनसीएल ने चालू वित्तीय वर्ष में 15 प्रतिशत की वार्षिक वृद्धि के साथ 67.41 मिलियन टन कोयला प्रेषित किया है। आने वाले समय में भी राष्ट्र को क्षमता अनुसार भरपूर कोयला देने की कोशिश की जा रही है।
अब तक 62.81 मिलियन टन उत्पादन
कंपनी के अधिकारियों के मुताबिक भारी मानसून और कोविड महामारी के बाबजूद एनसीएल लक्ष्यों के समांतर कोयला उत्पादन कर रही है। वित्त वर्ष 2021-22 में अब तक 62.81 मिलियन टन कोयले का उत्पादन किया जा चुका है। जबकि आपूर्ति किए गए कोयला की मात्रा 67.81 मिलियन टन है।
गौरतलब है कि कंपनी को इस वित्तीय वर्ष में 119 मिलियन टन कोयला उत्पादन और 126.5 मिलियन टन कोयला प्रेषण का लक्ष्य दिया गया है। जिस तरह से कंपनी द्वारा कोयला की आपूर्ति किया जा रहा है। उसके मद्देनजर लक्ष्य से अधिक कोयला आपूर्ति की संभावना है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

School Holidays in February 2022: जनवरी में खुले नहीं और फरवरी में इतने दिन की है छुट्टी, जानिए कितनी छुट्टियां हैं पूरे सालCash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीइस एक्ट्रेस को किस करने पर घबरा जाते थे इमरान हाशमी, सीन के बात पूछते थे ये सवालजैक कैलिस ने चुनी इतिहास की सर्वश्रेष्ठ ऑलटाइम XI, 3 भारतीय खिलाड़ियों को दी जगहदुल्हन के लिबाज के साथ इलियाना डिक्रूज ने पहनी ऐसी चीज, जिसे देख सब हो गए हैरानकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेश

बड़ी खबरें

टाटा ग्रुप का हो जाएगा अब एयर इंडिया, कर्मचारियों को क्या होगा फायदा और नुकसान?झारखंड में नक्सलियों ने ब्लास्ट कर उड़ाया रेलवे ट्रैक, राजधानी एक्सप्रेस सहित कई ट्रेनों का रूट बदलाBudget 2022: इस साल भी पेश होगा डिजिटल बजट, जानें कैसे होगी छपाईनागालैंड में AFSPA कानून को खत्म करने पर विचार कर रही केंद्र सरकारजिनके नाम से ही कांपते थे आतंकी, जानिए कौन थे शहीद बाबू राम जिन्हें मिला अशोक चक्रUP Police Recruitment 2022 : यूपी पुलिस में हाईस्कूल पास युवाओं के लिए निकली बंपर भर्तियां, जानें पूरी डिटेलहिजाब के बिना नहीं रह सकते तो ऑनलाइन कक्षा का विकल्प खुला : भट्टएक लाख श्रद्धालु आएं तो भी आधा घंटे में हो जाएंगे महाकाल के दर्शन
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.