मांगों को लेकर सडक़ पर उतरी आंगनबाड़ी व सहायिका, रैली निकालकर पहुंची कलेक्ट्रेट

मांगों को लेकर सडक़ पर उतरी आंगनबाड़ी व सहायिका, रैली निकालकर पहुंची कलेक्ट्रेट
Collectorate arrived at Anganwadi and Sahayika rally in Singrauli

Amit Pandey | Updated: 11 Jul 2019, 03:25:13 PM (IST) Singrauli, Singrauli, Madhya Pradesh, India

तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन........

सिंगरौली. आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिका एकता यूनियन की ओर से बुधवार को शहर के मुख्य मार्ग पर रैली निकाली गई। इसके बाद अपनी विभिन्न मांगों को लेकर कलेक्ट्रेट पहुंच मुख्यमंत्री के नाम संबोधित ज्ञापन तहसीलदार विवेका गुप्ता को सौंपा है। ज्ञापन के जरिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिका ने कहा है कि विधानसभा चुनाव के दौरान आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं से नियमितीकरण का वचन दिया गया था। छह माह पूरा हो जाने के बाद भी उनके नियमितीकरण को लेकर कोई कवायद शुरू नहीं की गई है।

जबकि आंगनबाड़ी कार्यकर्ता शासन के महत्वपूर्ण काम में सहयोग करती हैं। प्रशासन की ओर से काम का जिम्मा पूरा आंगबाडिय़ों को दे दिया जाता है। सेवानिवृत्ति पर कार्यकर्ता को एक लाख व सहायिका को ७५ हजार रुपए देने का निर्णय लागू किया जाए। वहीं सेवानिवृत्ति होने पर छह हजार रुपए पेंशन के रूप में दिए जाने की मांग की।कहा कि महाराष्ट्र व पंजाब सहित कई राज्यों में आंगनबाडिय़ों को सेवानिवृत्ति होने पर एक लाख व साहायिका को ७५ हजार रुपए दिया जा रहा है। प्रदेश सरकार भी इसे लागू करे।

मिनी आंगनबाडिय़ों को पूर्ण आंगनबाड़ी कार्यकर्ता का दर्जा दिया जाए। ग्रीष्मकालीन अवकाश दिया जाए। बैठक में बुलाने पर यात्रा भत्ता दिया जाए। इसके अलावा उनकी ओर से कईऔर मांग की गई है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिका एकता यूनियन संघ के बैनर तले अध्यक्ष विद्या शर्मा व सचिव रामवती वर्मा की अगुवाई में निकली रैली में सैकड़ों की संख्या में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिका मौजूद रही। रैली स्टेडियम से निकलकर कलेक्ट्रेट पहुंची। इसके वहां धरना प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपा गया।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned