scriptCompany stopped displacement allowance, unable to survive | साहब! कंपनी ने रोक दिया विस्थापन भत्ता, नहीं हो पा रहा गुजारा | Patrika News

साहब! कंपनी ने रोक दिया विस्थापन भत्ता, नहीं हो पा रहा गुजारा

locationसिंगरौलीPublished: Sep 28, 2022 12:32:29 am

Submitted by:

Ajeet shukla

8 महीने से हर जनसुनवाई में पहुंच रहे 58 वर्षीय विस्थापित शंकरदयाल, राहत नहीं ....

Company stopped displacement allowance, unable to survive
Company stopped displacement allowance, unable to survive
सिंगरौली. साहब, पिछले आठ महीने से हर मंगलवार को जनसुनवाई में पहुंच रहा हूं। हर बार आश्वासन मिलता है, लेकिन अभी तक राहत नहीं मिली। अब तो भत्ता दिलवा दीजिए। जनसुनवाई में पहुंचे 58 वर्षीय शंकर दयाल इतना ही बोल पाए थे, कि उनकी आंखे भर आई। संभलते हुए कहा कि गुजारा के लिए भत्ता ही एक मात्र सहारा है।
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.