कांग्रेस ने साहू समाज के प्रति दिखाई हमदर्दी कहा - युवाओं पर दर्ज मामले वापस ले सरकार

कांग्रेस ने फर्जी मामले दर्ज कर युवाओं को परेशान करने का आरोप लगाया

By: Vedmani Dwivedi

Published: 24 May 2018, 04:12 PM IST

सिंगरौली. उपद्रवियों ने वर्ष 2013 में जिले की शांति व्यवस्था को बिगाड़ने का प्रयास किया था। पुलिस एवं प्रशासन के साथ मारपीट, आगजनी की घटना हुई थी। उस घटना में दो लोगों की मौत भी हो गई थी। घटना के बाद पुलिस ने मारपीट एवं आगजनी करने का आरोप लगाकर कई लोगों पर मामला दर्ज किया है। उसमें ज्यादातर शहर के बिलौंजी मोहल्ले के युवा हैं। जिनकी उम्र 20 से लेकर 30 वर्ष के बीच है। अधिकतर साहू समाज के युवा हैं।

कांग्रेस के जिला उपाध्यक्ष एवं साहू समाज के जिला अध्यक्ष रामशिरोमणि शहवाल ने इसी संबंध में बुधवार को प्रेस वार्ता किया और पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि पुलिस किसी भी युवा को गिरफ्तार कर लेती है। उन्होंने कहा कि कई ऐसे युवाओं को गिरफ्तार किया गया है जो उस दौरान जिले में थे ही नहीं।

पुलिस ने युवाओं के नाम से मनमानी मामले दर्ज कर लिए हैं। कहा कि युवा परेशान है। कई युवा हैं जिनकी पढ़ाई बर्बाद हो गई। नौकरी नहीं मिल पा रही है। शहवाल ने कहा कि प्रदेश सरकार को युवाओं पर दर्ज मामले वापस ले लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि उस दौरान जो घटना हुई उससे आम लोग प्रभावित हुए। आज भी बेकसूर युवा परेशान हो रहा है।

कहा कि यदि प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने युवाओं पर दर्ज मामले वापस नहीं लिया तो इस कार्य को कांग्रेस की सरकार करेगी। उन्होंने वादा किया कि कांग्रेस की सरकार आई तो युवाओं पर दर्ज मामले वापस लिए जाएंगे। माना जा रहा है कि चुनाव नजदीक आ रहा है ऐसे में कांग्रेस साहू समाज के प्रति ऐसा कर सहानुभूति दिखाना चाहती है। सिंगरौली विधानसभा में साहू समाज की संख्या बहुत ज्यादा है ऐसे में यदि साहू समाज को साधने में सफल रहे तो चुनाव में ज्यादा मुश्किल नहीं होगी।

पहुंची पुलिस
कांग्रेस कार्यालय में प्रेस वार्ता के दौरान ही पुलिस पहुंच गई। कोतवाली टीआई मनीष त्रिपाठी, विंध्यनगर टीआई संतोष तिवारी के साथ बड़ी सं याा में पुलिस बल पहुंच गया। बाताया जा रहा है कि पुलिस यह जानकारी लेने आई थी कि मु यमंत्री के कार्यक्रम के विरोध को लेकर तो कुछ तैयारी नहीं हो रही है। जब पुलिस को यह भरोसा हो गया कि ऐसा कुछ नहीं हो रहा है तो वापस चले गए। हालांकि इस संबंध में कांग्रेस पदाधिकारी सीधे तौर पर पुलिस पर कुछ आरोप लगाने से बचते रहे। कहा कि पुलिस अपना काम कर रही है इसमें हम कुछ नहीं कह सकते।

एसडीएम को सौंपा ज्ञापन
कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने 2013 के दंगे के आरोपियो पर दर्ज मामले वापस लेने को लेकर बुधवार को ही एसडीएम विकास सिंह को ज्ञापन सौंपा। प्रदेश तैलिक साहू समाज केउपाध्यक्ष लखनलाल साहू ने कहा कि वर्ष 2013 में ग्राम विलौंजी के अखिलेश साहू पिता भरतलाल साहू का शव 13 दिसंबर को ग्राम बिलौंजी से 5 - 6 किमी. दूर ग्राम अमझर के एक कुंए में मिला।

उन्होंने कहा कि इसके बाद आगजनी व गोली कांड जैसी घटना हुई। कहा कि इस घटना से ग्राम विलौंजी व अन्य ग्रामों के साहू समाज के लोगों का घटना से कोई संबंध नहीं था। इसके बावजूद भी साहू जाति के व्यक्ति के साथ घटना होने के कारण ग्राम विलौंजी के साथ - साथ सिंगरौली के साहू जाति के लोगों को ही आरोपी बनाया गया है।

इस तरह से लगाए गए फर्जी मुकदमें से निरअपराध युवाओं व लोगों का भविष्य अंधकार मय हो रहा है। मुकदमा वापस लिया जाए।

यह भी रहीं मांगें
ज्ञापन में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कहा कि सिंगरौली जिला औद्योगिक विकसित जिला है, जो गरीब किसानों की अधिकांश भूमियां विभिन्न परियोजनाओंमें अधिग्रहित कर ली गई हैं। जिससे कृषि कार्यकरके जीवन यापन करनेवाले गरीब किसान मजदूर बेरोजगार व विस्थापित हो गए हैं। जिससे बेरोजगारी जैसी भीषण समस्याओं का सामना कर रहे हैं। जिससे विस्थापित परिवार व युवा बेरोजगारों को नौकरी दिलवाया जाए। सिंगरौली जिले में अत्यधिक युवा तकनीकी शिक्षा इंजीनियरिंग, डिप्लोमा, आईटीआई, एमबीए शिक्षा प्राप्त कर बेरोजगार घूम रहे हैं।

बाहर के लोगों को नौकरी दी जाती है, किन्तु सिंगरौली के शिक्षित युवा बेरोजगारों को नौकरी नहीं दी जा रही है। सिंगरौली जिले के शिक्षित युवा बेरोजगारों को नौकरी दिलाई जाए।

इस दौरान साहू सामज के अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष जिला कांग्रेस कमेटी रामशिरोमणि शाहवाल, प्रदेश तैलिक साहू समाज व अध्यक्ष जिला कांग्रेस कमेटी पिछड़ा वर्गलखनलाल साहू, कांग्रेस महामंत्री अमित द्विवेदी, ब्लाक कांग्रेस कमेटी उपाध्यक्ष प्रकाश नारायण शाह, ब्लाक कांग्रेस कमेटी के महामंत्री राम कुमार शाह, पूर्व विधायक प्रतिनिधि शिव प्रसाद शाह, युवा समाज सेवी रामचन्द्र शाह, कृष्णा प्रसाद शाह, गंगा प्रसाद शाह, बृजेश कुमार शाह, अवधेश कुमार शाह सहित कई लोग मौजूद रहे।

Congress
Vedmani Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned