परसौना मुख्य मार्ग में गड्ढे बने मुसीबत, लंबे समय से चल रहा कछुआ चाल से निर्माण कार्य

परसौना मुख्य मार्ग में गड्ढे बने मुसीबत, लंबे समय से चल रहा कछुआ चाल से निर्माण कार्य
Construction of slow road in Singrauli

Amit Pandey | Updated: 11 Jul 2019, 02:34:56 PM (IST) Singrauli, Singrauli, Madhya Pradesh, India

अधूरा निर्माण दे रहा दुर्घटनाओं को आमंत्रण........

सिंगरौली. माजनमोड़-परसौना मुख्य मार्ग का दोहरीकरण किया जा रहा है। समय रहते निर्माणकार्य नहीं कराया गया। बारिश के सीजन में कराए जा रहे आधे-अधूरे निर्माण कार्य से न केवल लोगों को परेशानी हो रही है। बल्कि आधा-अधूरा कार्य दुर्घटना को आमंत्रण दे रहा है। वर्तमान में हो रही बारिश ने एमपीआरडी के कार्यों की पोल खोलकर रख दी है। नाम मात्र की बारिश में सडक़ निर्माण में खोदे गए गड्ढों में पानी भर गया है। वहीं मार्ग से निकलना वाहन चालकों को बड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

परसौना-माजनमोड़ मुख्य मार्ग का मरम्मतीकरण कराया जा रहा है। सडक़ निर्माण कार्य में लापरवाही यह है कि बीच सडक़ोंं पर मिट्टी रख दिया गया है। वहीं सडक़ों में बड़े-बड़े गड्ढों में भरा बरसाती पानी पैदल और वाहन चालकों के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है। ऐसे में इस मार्ग में कभी भी बड़ी दुर्घटना हो सकती है। स्थानीय लोगों की मानें तो आए दिन कई लोग इन गड्ढों की चपेट में आकर गिरकर घायल भी होते रहते हैं।

खतरनाक हो जाता है सफर
आधे घंटे की बारिश से ही सडक़ों पर पानी भर जाता है। इससे खतरनाक गड्ढे पानी की जद में आकर दिखना बंद हो जाते हैं। ऐसे में गाड़ी चलाने वालों, खासकर बाइक वालों को बेहद मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। इन जगहों पर दुर्घटना होने की काफी आशंका होती है। मौके पर गुजर रहे राहगीर प्रदीप कुमार ने कहा सडक़ों पर गड्ढों के कारण सफर नरकीय हो चुका है। जगह-जगह ट्रैफिक जाम हो जाता है। कुछ किलोमीटर का सफर तय करने में आधे घंटे से ज्यादा समय लगता है।

अधिकारी भी रहे बेखबर
सडक़ों की जर्जर हालत निर्माण कार्य करा एजेंसियों की पोल खोलने के लिए काफी है। मॉनसून से पहले काम में तेजी नहीं लाई गई। यही वजह है कि बारिश मेें सडक़ पर सांसत भर सफर लग रहा है। सभी एजेंसियों के लिए निर्माण कार्य में करोड़ों रुपए खर्च किए जा रहे हैं। फिर भी सडक़ का निमार्ण कार्य पूरा नहीं हो सका। अब समय आ गया है कि इसकी जिम्मेदारी तय की जाए अधूरी सडक़ के लिए जिम्मेदार अधिकारी भी बेखबर हैं।

तीन एजेंसियों को काम का जिम्मा
- एमपीआरडीसी को सडक़ निर्माण का जिम्मा
- एमपीइडी को बिजली खंभा से संबंधित काम
- नगर निगम को यूटीलिटी शिफ्टिंग का काम

फैक्ट फाइल:-
वर्क आर्डर - 18 जून 2018
काम पूरा होगा - 19 दिसबंर 2019
सडक़ में लगात - 41.89 करोड़ रुपए

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned