WCR में बड़ा हादसा टला, क्रैक पटरी से रात भर गुजरती रहीं ट्रेनें, रेलवे को पता चला सुबह

WCR में बड़ा हादसा टला, क्रैक पटरी से रात भर गुजरती रहीं ट्रेनें, रेलवे को पता चला सुबह
Crack track Passing trains in Singrauli

Suresh Kumar Mishra | Updated: 13 Jun 2017, 12:47:00 PM (IST) Singrauli, Madhya Pradesh, India

खतरनाक: मझौली-बरगवां रेलवे लाइन क्रेक, दिनभर गुजरती रहीं ट्रेनें, रेलवे ट्रैक की मरम्मत में विभाग की लापरवाही उजागर, दुर्घटना की बनी रही आशंका।


सिंगरौली।
मझौली से बरगवां के बीच रविवार की शाम रेलवे ट्रैक क्रेक हो गया, जिससे एक्सप्रेस सहित करीब दर्जनभर मालगाड़ी पूरी रात गुजरती रहीं। सुबह स्थानीय लोग रेलवे ट्रैक को क्रेक देखा तो रेलवे विभाग को सूचना दी। बता दें कि पिछले साल पटरी से उतरी ट्रेनों से भले ही रेलवे विभाग सतर्क हुआ हो, लेकिन रेलवे ट्रैक के क्रेक होने से लेकर नट-बोल्ट लूज होने जैसे गंभीर मामले सामने आ रहे हैं। रेलवे ट्रैक की मरम्मत में विभाग की ओर से लापरवाही बरती जा रही है।

जिससे कभी भी बड़ी रेल दुर्घटनाएं हो सकती है। बताया गया है कि मझौली रेलवे स्टेशन से करीब दो किलोमीटर की दूरी पर रविवार की शाम को रेलवे ट्रैक क्रेक हो गया। रात में रेलवे विभाग को इसकी भनक तक नहीं लग सकी।

हो सकती थी बड़ी दुर्घटना
मझौली से बरगवां के बीच में उस समय रेलवे की घोर लापरवाही देखने को मिली जब इसी बीच में रेलवे लाइन पर क्रेक रेलवे ट्रैक पर गाडिय़ा गुजरती रहीं लेकिन रेलवे विभाग को इसकी भनक तक नहीं लगी। गांव वालों की सूझ-बूझ से एक बड़ा हादसा होने से बच गया है। अगर आस पास के स्थानीय लोगों ने ट्रैक का क्रेक होना नहीं देख पाते तो एक बड़ा हादसा हो सकता था।

नट-बोल्ट लगाकर ट्रैक को किया मजबूत
स्टेशन अधीक्षक बरगवां रामबाबू ने बताया कि रेलवे ट्रैक के क्रेक होने की जानकारी नहीं मिली है। हां यदि स्थानीय लोग ट्रैक को क्रेक देखे होंगे तो मालूम होने पर मौके पर पहुंचकर कर्मचारियों ने नट बोल्ट लगाकर ट्रैक को मजबूत कर दिया होगा। ट्रैक को ठीक करने के बाद ट्रेनें धीमी गति से होकर गुजरी हैं। अब इस ट्रैक से ट्रेनों के गुजरने का कोई खतरा नहीं है। फिलहाल 20 किमी घंटे की रफ्तार से ही ट्रेनों को निकलवाया गया। रेलवे ट्रैक पर लगातार पेट्रोलिंग की जा रही है।

निकलती हैं ये ट्रेनें

सिंगरौली-कटनी रेल लाइन से होकर प्रतिदिन हावड़ा जबलपुर शक्तिपुंज एक्सप्रेस, सिंगरौली-जबलपुर इंटरसिटी एक्सप्रेस, कटनी-चोपन पैसेंजर सहित दर्जनभर से अधिक मालगाड़ी गुजरती हैं। वहीं साप्ताहिक ट्रेनों में हावड़ा अजमेर, हावड़ा भोपाल और संतरागाछी ट्रेनें ट्रैक से होकर गुजरती है। रेलवे विभाग की इसी लापरवाही से रात के समय बड़ा हादसा भी हो सकता था। रविवार की तड़के सुबह जब स्थानीय लोगों ने वहां से गुजरा तो उसने ट्रैक को कै्रक देखा। सूचना पर रेल विभाग के कर्मचारी मौके पर पहुंचकर आनन-फानन में ट्रैक की मरम्मत की।
Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned