RTE: निजी स्कूलों में दाखिले को अब इस तिथि तक सत्यापित हो सकेंगे दस्तावेज

-राज्य शिक्षा केंद्र के संचालक धनराजू एस ने दी जानकारी

By: Ajay Chaturvedi

Published: 27 Jun 2021, 07:34 PM IST

सिंगरौली. निःशुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम (RTE) के तहत बच्चों के दाखिले के लिए अब एक जुलाई तक दस्तावेजों का सत्यापन कराया जा सकता है। ये जानकारी राज्य शिक्षा केंद्र के संचालक धनराजू एस ने दी है।

संचालक राज्य शिक्षा केंद्र धनराजू एस ने बताया है कि आरटीई के तहत जिन बच्चों के आवेदन किए गए है, उनके माता-पिता या अभिभावक आवेदन में दिए गए दस्तावेजों की मूल प्रति को निकट के जनशिक्षा केंद्र जो सामान्यतः शासकीय हाई स्कूल या हायर सेकेंड्री स्कूल है, वहां ले जाकर सत्यापन करवा सकते हैं। संबंधित केंद्र में दस्तावेज सत्यापन नहीं कराने पर आवेदन निरस्त हो जाएगा।

धनराजू ने बताया है कि दस्तावेज सत्यापन के बाद पात्र आवेदकों को अशासकीय स्कूलों में सीटों का आवंटन, आवेदन की पात्रता अनुसार और आवेदक द्वारा प्रदत्त विकल्पों के आधार पर पारदर्शी ऑनलाइन लॉटरी माध्यम से किया जाएगा। मूल दस्तावेजों में मुख्यतः जाति प्रमाण पत्र, बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, आधार कार्ड आदि शामिल है। उन्होंने बतया कि कोविड-19 के संक्रमण को ध्यान में रखते हुए सत्यापन के लिए बच्चों को सत्यापन केंद्र ले जाने की आवश्यकता नही है। पालक वर्तमान में मध्यप्रदेश के जिस जिले में है, उसी जिले में निकट के जनशिक्षा केंद्र में जाकर सत्यापन करा सकते है। सत्यापन-कर्ता अधिकारियों के लिए मोबाइल एप से सत्यापन करने की पारदर्शी व्यवस्था प्रारंभ की गयी है। सत्यापन के बाद तुरंत ही पालक को पात्र अथवा अपात्र होने की सूचना एसएमएस से भेजी जा रही है।

आरटीई एमपी मोबाइल एप

स्कूल शिक्षा विभाग ने इस वर्ष से आरटीई एमपी मोबाइल एप पालको की सुविधा के लिए प्रारंभ किया है। इस एप पर पालक आसपास के अशासकीय स्कूल और उनमें आरक्षित सीटों की जानकारी प्राप्त कर सकेंगे। अपनी पात्रता जान कर आवेदन पत्र का प्रारूप डाउनलोड कर सकते हैं। अपने निकट के सत्यापन केंद्र और सत्यापन अधिकारियों की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इस एप को गूगल प्ले-स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है।

निःशुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 की 12 (1) (ग) के अर्न्तगत सत्र 2021-22 के लिए गैर-अनुदान मान्यता प्राप्त प्राइवेट स्कूलों में कमजोर वर्ग व वंचित समूह के बच्चों के निःशुल्क प्रवेश के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरू है। पालक जो अपने बच्चों को प्राइवेट स्कूल की प्रथम प्रवेशित कक्षा में प्रवेश के इच्छुक है, वह आरटीई पोर्टल http:@@[email protected] mp-gov-in http:@@[email protected] पर अपने बच्चे का ऑनलाइन आवेदन दर्ज कर सकते है। अभी तक लगभग एक लाख बच्चों के पालकों ने ऑनलाइन आवेदन दर्ज किए है।

Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned