विद्युत उत्पादन के लिए पर्याप्त कोयला, राहत में कोयला मंत्रालय

एनसीएल सहित बाकी की कोयला कंपनियों ने लक्ष्य से अधिक दिया कोयला .....

By: Ajeet shukla

Published: 11 Oct 2021, 10:56 PM IST

सिंगरौली. विद्युत उत्पादन के लिए कोल इंडिया कंपनी (सीआइएल) की एनसीएल सहित अन्य कोयला कंपनियों ने पर्याप्त मात्रा में कोयला उपलब्ध कराया है। कंपनियों द्वारा पिछले वर्ष की तुलना में काफी अधिक कोयला उपलब्ध कराए जाने से कोयला मंत्रालय राहत में है। एनसीएल अधिकारियों के मुताबिक खुद कोयला मंत्रालय ने इस आशय की कंपनियों को जानकारी दी है।

कोयला मंत्रालय ने साथ ही इसी प्रकार कोयला उत्पादन व प्रेषण (डिस्पैच) जारी रखने को कहा है। मंत्रालय की ओर से जारी एक निर्देश में कहा गया है कि इस वित्तीय वर्ष में अब तक पिछले वर्ष की तुलना में सितंबर तक 24 फीसदी अधिक बिजली का उत्पादन हुआ है। यह वृद्धि पर्याप्त मात्रा में कोयला उपलब्ध कराए जाने के चलते संभव हुआ है।

भारी वर्षा के बावजूद कोल इंडिया ने बिजली क्षेत्र को 225 मिलियन टन से अधिक कोयले की आपूर्ति की है। इसमें सबसे बड़ा योगदान एमसीएल, एसइसीएल व एनसीएल का है। बताया गया है कि बिजली संयंत्रों के पास लगभग 72 लाख टन कोयले का स्टॉक उपलब्ध है, जो 4 दिनों की आवश्यकता के लिए पर्याप्त है। दूसरी ओर सीआइएल के पास 400 लाख टन से अधिक का कोल स्टॉक उपलब्ध है।

इससे बिजली संयंत्रों को निर्बाध कोयला आपूर्ति की जा रही है। हाल में सीआइएल बिजली क्षेत्र को प्रति दिन 14 लाख टन कोयला दे रही थी जिसे बढ़ी मांग के मद्देनजर बढ़ाकर 15 लाख टन कर दिया गया है। अक्टूबर 2021 के अंत तक 16 लाख टन प्रति दिन तक बढ़ाने की संभावना है। सीआइएल द्वारा यह दावा एनसीएल सहित अन्य कंपनियों के दम पर किया गया है। निर्देश के मद्देनजर कंपनियों ने भी पूरी ताकत झोंक दी है।

एनसीएल ने दिया 57.6 मिलियन टन कोयला
विद्युत उत्पादक कंपनियों की मांग और सीआइएल की निर्देश के मद्देनजर एनसीएल ने इस वित्तीय वर्ष में अब तक 57.6 मिलियन टन कोयला की आपूर्ति की है, यह मात्रा पिछले वर्ष की तुलना में 15.2 फीसदी अधिक है। चालू वित्तीय वर्ष में अब तक कोयला आपूर्ति करने के मामले में एमसीएल सबसे आगे है।

एमसीएल ने भेजा 80.9 मिलियन टन कोयला
एमसीएल ने 80.9 मिलियन टन कोयला की आपूर्ति की है, जो पिछले वर्ष समान समयांतराल में किए गए आपूर्ति की तुलना में 19.3 फीसदी अधिक है। दूसरे स्थान की एसइसीएल ने 18 फीसदी अधिक कोयला की आपूर्ति की है। इस कंपनी ने 72.8 मिलियन टन कोयला दिया है। इसी प्रकार इसीएल ने 18.6 मिलियन टन, बीसीसीएल ने 15.5, सीसीएलल ने 33.7, डब्ल्यूसीएल ने 28.6 मिलियन टन कोयला की आपूर्ति की गई है।

कंपनी व उत्पादन (मिलियन टन में)
कंपनी-उत्पादन
एसीएल-80.9
एसइसीएल-72.8
एनसीएल-57.6
सीसीएल-33.7
डब्ल्यूसीएल-28.6
इसीएल-18.6
बीसीसीएल-15.6

Ajeet shukla Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned