होटल-रेस्तरां में खपा रहे घरेलू सिलेंडर, खाद्य विभाग की चुप्पी से मिल रहा बढ़ावा

होटल-रेस्तरां में खपा रहे घरेलू सिलेंडर, खाद्य विभाग की चुप्पी से मिल रहा बढ़ावा

By: Anil kumar

Updated: 10 Mar 2019, 05:35 PM IST

सिंगरौली. घरों में आसानी से घरेलू एलपीजी सिलेंडर और व्यवसाय में व्यावसायिक एलपीजी सिलेंडर का प्रयोग हो। किसी भी स्थिति में व्यावसायिक कार्यों में घरेलू सिलेंडर का प्रयोग नहीं होना चाहिए। विभागीय स्तर पर भले ही इस बात का सख्त निर्देश हो, लेकिन यहां यह निर्देश बेमानी है। जिम्मेदार अधिकारियों की लापरवाही के चलते नियमों को धता बताते हुए धड़ल्ले से व्यावसायिक सिलेंडर का प्रयोग किया जा रहा है।


उज्ज्वला योजना के तहत दिए जा रहे सिलेंडर
उज्ज्वला योजना के जरिए घरों में गैस कनेक्शन दिए जाने की कवायद तो तेजी के साथ जारी है, लेकिन सिलेंडर के लिए हो रही परेशानी पर कोई गौर फरमाने की जरूरत नहीं समझ रहा है। घरेलू सिलेंडर की व्यावसायिक कार्यों में बढ़ी खपत का ही नतीजा है कि घर में सिलेंडर बुकिंग के कई दिनों बाद भी नहीं पहुंचता है। पत्रिका की ओर से इसकी पड़ताल की गई तो शहर के कई होटल व रेस्तरां में घरेलू सिलेंडर का उपयोग होता देखा गया। नियमों को ताक पर रखने की हिमाकत अधिकारियों की चुप्पी और कुछ रुपए बचत करने का नतीजा है।

 

22 रुपए प्रति किलो तक का फायदा
व्यावसायिक कार्य में घरेलू सिलेंडर का उपयोग व्यापारी प्रति किलोग्राम २२ रुपए के फायदे के लिए कर रहे हैं। एलपीजी के वर्तमान समय के रेट के मुताबिक घरेलू सिलेंडर में १४ किलोग्राम गैस ७३२ रुपए में मिल रही है। जबकि १९ किलोग्राम के व्यवसायिक सिलेंडर के लिए १४०९ रुपए देना पड़ता है। दोनों सिलेंडर के गैस की प्रति किलोग्राम कीमत में करीब २२ रुपए का अंतर होता है।


व्यापरियों से साठगांठ , चुप्पी साधे बैठा है खाद्य विभाग
व्यापारियों की इस मनमानी पर नकेल लगाने की कवायद खाद्य विभग को दी गई है। लेकिन विभाग के अधिकारी चुप्पी साधे बैठे हैं। अधिकारियों की नींद होली के त्योहार के मद्देनजर बढ़ी खपत के बाद भी नहीं टूट रही है। ऐसे में अधिकारियों व व्यापारियों के बीच साठगांठ की बात सामने आती है। गौरतलब है कि पूर्व की चलाए गए अभियान और की गई कार्रवाई में बड़ी संख्या में व्यापारिक प्रतिष्ठानों की मनमानी सामने आई थी।

Anil kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned