सकरिया जंगल में काट दिए गए सैकड़ों हरे पेड़, पूर्व सांसद ने जिला प्रशासन से की शिकायत

सकरिया जंगल का मामला......

चितरंगी. पर्यावरण संरक्षण को लेकर एक ओर जहां शासन स्तर से यहां राष्ट्रीय कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है। वहीं दूसरी ओर कारोबारी जंगल को उजाडऩे में लगे हुए हैं। कर्थुआ वन परिक्षेत्र के सकरिया जंगल से सैकड़ो की संख्या में हरे पेड़ों की कटाई का मामला सामने आया है।

वन विभाग के अधिकारियों की मिली भगत के चलते ढहाए गए पेड़ों की जानकारी पूर्व सांसद मानिक सिंह ने जिला प्रशासन को दी। साथ ही पूर्व सांसद की ओर से मामले की जांच कराने और दोषियों पर कार्रवाई की मांग भी की गई है। शिकायत में पूर्व सांसद ने बताया है कि सकरिया जंगल से सरई, हल्दी व सेधा जैसे कीमती पेड़ों को काटा गया है।

स्थानीय रेंजर से सांठगांठ कर माफिया हरे-भरे सैकड़ों पेड़ महज चंद दिनों में ढहा दिए गए हैं। कहा है कि जंगल उजाड़ कर न केवल पर्यावरण को हानि पहुंचाई जा रही है। बल्कि जंगली जीवों पर भी खतरा मडऱा रहा है। शिकायत के मुताबिक सकरिया जंगल से करीब छह सौ पेड़ काटे गए हैं। वर्तमान में भी पेंड़ों की कटाई जारी रहने की बात कही गई है।

Amit Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned