मूर्ति विसर्जन : मां को विदा करते डबडबा आईं श्रद्धालुओं की आंखें

मूर्ति विसर्जन :  मां को विदा करते डबडबा आईं श्रद्धालुओं की आंखें
Idol immersion on ghats marked by Singrauli Municipal Corporation

Amit Pandey | Updated: 09 Oct 2019, 09:00:43 PM (IST) Singrauli, Singrauli, Madhya Pradesh, India

चिह्नित घाटों पर हुआ मूर्ति विसर्जन.....

सिंगरौली. मूर्ति विसर्जन के दौरान मां को विदा करते श्रद्धालुओं की आंखे डबडबा गई। शारदीय नवरात्र में नौ दिन भक्तों ने दुर्गा मां की विधि-विधान से पूजा अर्चना कर क्षेत्र में शांति व खुशहाली की कामना की। शहर सहित ग्रामीण अंचल के विभिन्न दुर्गा पूजा समितियों की ओर से गाजे-बाजे के साथ दुर्गा प्रतिमा का विसर्जन किया गया। इस दौरान भारी संख्या में माता के भक्त मौजूद रहे। विसर्जन यात्रा में मैया के जयकारे गूंजते रहे और भक्ति गीतों की धुन पर मां के भक्त झूमते-नाचते विसर्जन यात्रा में शामिल हुए। नवदुर्गा समितियों की ओर से मां की प्रतिमाओं का धूमधाम से विसर्जन किया गया।

भक्तों ने बैंडबाजों के साथ विसर्जन यात्रा निकाली। जिसमें भक्त माता के जयकारे लगाते हुए नाचते गाते चल रहे थे। मोरवा में विसर्जन यात्रा अंबेडकरनगर, एनसीएल कॉलोनी, पुरानी आईटीआई कॉलोनी, मस्जिद तिराहा, पुराना बाजार, यूबीआई रोड होकर रेलवे स्टेशन समीप बिजुल नदी में विधि विधान से पूजन के बाद विसर्जन किया।

सुरक्षा को लेकर पुलिस का पहरा
यातायात व्यवस्था दुरुस्त रखने व किसी भी अनहोनी से निपटने के लिए पुलिस अधीक्षक अभिजीत रंजन के निर्देशन पर संबंधित थाना प्रभारी विसर्जन के दौरान दल बल के साथ मौजूद रहे। गौरतलब है कि राजधानी में विसर्जन के दौरान हुए हादसे के बाद प्रदेश सरकार ने सख्त नियम अपनाते हुए जहां मूर्तियों की लंबाई निर्धारित कर दी थी। वहीं प्रशासनिक अधिकारियों की भी जिम्मेदारी तय कर दी गई थी। इसके तहत विसर्जन के दौरान जिला प्रशासन की ओर से पुख्ता इंतजाम किए गए थे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned