अचानक से बढ़ा लॉकडाउन, सुबह ही मच गई अफरातफरी

जानिए, ऐसा क्या हुआ कि आक्रोशित हैं लोग .....

By: Ajeet shukla

Published: 12 Apr 2021, 11:28 PM IST

सिंगरौली. कोरोना से सुरक्षा के मद्देनजर जिला प्रशासन ने शनिवार व रविवार को दो दिन के लिए लगे लॉकडाउन को लगातार करते हुए तीन दिनों के लिए बढ़ा दिया। तमाम विरोध के बावजूद बढ़ाए गए लॉकडाउन से सोमवार को शहरवासियों के लिए काफी मुसीबत हुई। ग्रामीण अंचल में तो जैसे-तैसे काम चल गया, लेकिन शहर में लोग सुबह होते ही सब्जी व राशन जैसी अन्य आवश्यक वस्तुओं के इंतजाम में जुट गए। मंगलवार से शुरू हो रहे नवरात्र के चलते लोग ज्यादा परेशान रहे।

जिला प्रशासन की ओर से पिछले गुरुवार को यह घोषणा की गई कि शुक्रवार की शाम छह बजे से सोमवार सुबह ६ बजे तक लॉकडाउन रहेगा तो शहरवासियों ने केवल दो दिनों के लॉकडाउन को ध्यान में रखकर जरूरत के वस्तुओं का इंतजाम किया। रविवार की शाम जब प्रशासन तीन दिनों के लिए लॉकडाउन बढ़ा दिया तब शहरवासियों के साथ व्यापारियों के भी माथे पर बल पड़ गया। सोमवार की सुबह सभी इंतजाम बनाने में जुट गए। राहत भरी बात यह रही कि सुबह पुलिस थोड़ा नरम रही।

मुश्किल से मिली होम डिलीवरी
वैसे तो जिला प्रशासन ने सामानों की होम डिलीवरी का निर्देश जारी कर रखा है, लेकिन हकीकत में लोगों को सामानों की होम डिलीवरी नहीं मिली। लोग जैसे-तैसे दुकानदारों से संपर्क कर व्यवस्था बनाने में जुटे रहे। इसमें एक ओर जहां लोगों को परेशान होना पड़ा। वहीं दूसरी ओर कई को निराश भी होना पड़ा। कई लोग अचानक से लॉकडाउन बढ़ाने के निर्णय को कोसते नजर आए।

चुकाना पड़ा मनमानी कीमत
सुबह सामानों के इंतजाम की अफरा-तफरी के बीच लोगों को सब्जी सहित अन्य कई सामानों की मनमानी कीमत भी चुकानी पड़ी। दुकानदारों ने सामान की कमी का हवाला देते हुए दोगुना कीमत तक वसूल की गई। कई दुकानदारों ने होम डिलीवरी का अलग से चार्ज भी लिया। ग्राहक मजबूरन कीमत अदा करने को बाध्य रहें।

मंसा में कामयाब रहा प्रशासन
इन सबके बीच प्रशासन के लिए राहत भरी बात यह रही कि वह लॉकडाउन के जरिए कोरोना संक्रमण की चेन तोडऩे के बावत सोशल डिस्टेंसिंग की व्यवस्था बनाने में सफल रहा। दोपहर बाद से हर कोई घरों में कैद हो गया। शहर से लेकर ग्रामीण अंचल तक में बाजार बंद रहे और सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा। अनावश्यक रूप से बाहर निकलने वालों पर कार्रवाई भी की गई।

Ajeet shukla Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned