कंपनियों के बीच भूमि विवाद, कलेक्टर तक पहुंचा प्रकरण

जानिए फिर क्या हुआ ....

By: Ajeet shukla

Updated: 15 Sep 2020, 11:24 PM IST

सिंगरौली. रिलायंस सासन पॉवर लिमिटेड कोल परियोजना मुहेर व एनसीएल अमलोरी के बीच चल रहे भूमि सीमा विवाद के मद्देनजर कलेक्टर राजीव रंजन मीना ने सुनवाई की। कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक में कलेक्टर ने दोनों पक्षों को सुना। उसके बाद उन्होंने खनिज पट्टा के अनुसार सीमांकन कराए जाने का निर्देश दिया।

कलेक्टर ने राजस्व विभाग के अधिकारियों से कहा कि वह संबंधित भूमि में पट्टा के अनुसार स्थाई सीमा चिन्ह स्थापित करें और दोनों की कंपनियों को उनके अधिकार क्षेत्र की जमीन की जानकारी दें। गौरतलब है कि सासन पावर लिमिटेड मुहेर अमलोरी विस्तार कोल परियोजना व एनसीएल अमलोरी परियोजना के बीच आवंटित भूमि को लेकर विवाद की स्थिति बन गई है।

कंपनियों की ओर से इस मामले में प्रशासन के समक्ष मामला निराकरण की बात कही गई थी। इसके मद्देनजर कलेक्टर ने सुनवाई के लिए बैठक बुलाई। कलेक्टर की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में वनमंडल अधिकारी विजय सिंह, अपर कलेक्टर बीके पाण्डेय, उपखंड अधिकारी ऋषि पवार, खनिज अधिकारी एके राय सहित दोनों परियोजनाओं के अधिकारी उपस्थित रहे। कलेक्टर ने राजस्व अधिकारी को निर्देश दिया कि वह अपने टीम व वन विभाग की टीम के साथ दोनो पक्षो को आवंटित भूमि स्थल की जांच कर प्रतिवेदन भी प्रस्तुत करें।

Ajeet shukla Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned