चौबीस घंटे बिजली देने के आदेश का दिख रहा असर

चौबीस घंटे बिजली देने के आदेश का दिख रहा असर

Anil Kumar | Publish: Apr, 21 2019 11:09:02 PM (IST) Singrauli, Singrauli, Madhya Pradesh, India

शहर मेें चुस्त बिजली आपूर्ति का मामला

 

सिंगरौली. भीषण गर्मी के इस दौर में शहरी उपभोक्ताओं को चौबीस घंटों में से अधिकतम समय बिजली आपूर्ति के लिए बिजली अमले को मुस्तैदी से डटे रहना पड़ रहा है। मध्यप्रदेश पूर्व क्षेत्र बिजली कंपनी मुख्यालय का भी राज्य सरकार के निर्देश पर जिला स्तरीय बिजली अधिकारियों पर इसका बेहद दवाब काम कर रहा है। इसके तहत ही बिजली कंपनी के जबलपुर मुख्यालय पर हर दिन शहरी क्षेत्र के हर फीडर से होने वाली आपूर्ति के समय की समीक्षा हो रही है। बताया गया कि जिला स्तरीय अधिकारियों को शहर मेें २४ घंटे में से अधिकतम समय बिजली आपूर्ति का कड़ा निर्देश है। यह व्यवस्था भंग होने पर मुख्यालय से कार्रवाई का दबाव बिजली अमले को चुस्ती के लिए मजबूर किए हुए है।

उपभोक्ताओं को मिलेगी राहत
बताया गया कि इसके तहत ही जिला मुख्यालय से शहरी क्षेत्र में पूरे दिन में हर फीडर से की गई बिजली आपूर्ति की रिपोर्ट ली जा रही है। इस रिपोर्ट की अगले दिन हर सुबह समीक्षा भी की जा रही है। इसके तहत बिजली अमले की ओर से शहर के सभी 24 फीडर की रिपोर्ट मुख्यालय भेजी जा रही है। बिजली कंपनी अधिकारियों की यह रिपोर्ट बताती है कि जिला मुख्यालय पर शहरी क्षेत्र में बिजली आपूर्ति की स्थिति काफी बेहतर है। इस रिपोर्ट से सामने आया कि शनिवार को शहर के सभी फीडर से उपभोक्ताओं को २३ से २४ घंटे बिजली की आपूर्ति की गई। इस व्यवस्था को उपभोक्ताओं के लिए राहत भरा कहा जा सकता है।

20 घंटे से कम की आपूर्ति पर चेतावनी
बिजली कंपनी के अधिकारी सूत्रों ने बताया कि शहरी क्षेत्र में किसी फीडर से 20 घंटे या उससे कम समय बिजली आपूर्ति की स्थिति रहने पर संबंधित क्षेत्र के फील्ड कर्मियों व अधिकारी पर कार्रवाई की चेतावनी है। मुख्यालय की इसी चेतावनी के चलते शहर में अधिकतम समय बिजली आपूर्ति हो रही है तथा इसके प्रति सतर्कता बरती जा रही है। जिला मुख्यालय के शहरी क्षेत्र के ४५ वार्डों में बसे इलाके में लगभग २९ हजार की बड़ी संख्या में केवल घरेलू श्रेणी के बिजली उपभोक्ता हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned