नो एंट्री में वाहन रोका तो MP Police को मिली जान से मारने की धमकी, कहा- कुचलकर कर दूंगा हत्या

नो एंट्री में वाहन रोका तो MP Police को मिली जान से मारने की धमकी, कहा- कुचलकर कर दूंगा हत्या

suresh mishra | Publish: Sep, 16 2018 03:19:31 PM (IST) Singrauli, Madhya Pradesh, India

बालाजी कोल ट्रांसपोर्ट का आरोपी चालक गिरफ्तार

सिंगरौली। यातायात थाने में पदस्थ प्रधान आरक्षक दिनेश तिवारी को बालाजी कोल ट्रांसपोर्ट के चालक ने ट्रेलर से कुचलकर जान से मारने और चार घंटे के भीतर वर्दी उतरवा देने की धमकी दी है। हालांकि, यातायात कर्मी एवं स्थानीय लोगों ने आरोपी को कोतवाली पुलिस के हवाले कर दिया है। पुलिस आरोपी को गिरफ्तार कर मामला दर्ज करने के बाद पूछताछ कर रही है।

सांस रहने तक नहीं जाने दूंगा
प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, शनिवार की सुबह नो एंट्री तोड़ते हुये ट्रांसपोर्ट का चालक वाहन लेकर घुस गया। जहां यातायात पुलिसकर्मी ने उसे रोका। पर, वह नहीं माना। दिनेश ने चुनौती दी, मेरी जान जायेगी तभी नो एंट्री से वाहन जायेगा। अन्यथा, सांस रहने तक नो एंट्री तोड़कर ट्रेलर नहीं जाने दूंगा।

आरोपी चालक उमेश कुशवाहा को गिरफ्तार

इधर, यातायात कर्मी व वाहन चालक के बीच विवाद चल ही रहा था कि, किसी ने कोतवाली टीआई मनीष त्रिपाठी को अवगत करा दिया। यातायात कर्मी ने भी वायरलेस सेट से पुलिस अधिकारियों को सूचना दी। तत्काल कोतवाली पुलिस व यातायात अमला मौके पर पहुंचा। और, आरोपी चालक उमेश कुशवाहा को गिरफ्तार कर ट्रेलर यातायात थाने में खड़ा करा दिया है।

यह है मामला
नौगढ़ कन्वेयर बेल्ट के पास शनिवार को सुबह 11 बजे बैढऩ-परसौना मुख्य मार्ग पर यातायात कर्मी दिनेश तिवारी ड्यूटी पर थे। इसी बीच बालाजी कोल ट्रांसपोर्टर का टे्रलर क्रमांक यूपी 64 एटी 4500 परसौना मार्ग से नो एन्ट्री का उल्लंघन करते हुए बैढऩ जा रहा था। जिसे नो इन्ट्री जोन पर दिनेश ने रोका। वाहन चालक उमेश ने रुपए व हेकड़ी दिखाते हुए बदसलूकी की।

चार घंटे में वर्दी उतरवा दूंगा

यातायात कर्मी ने कहा, नो एन्ट्री में वाहन नहीं जाने देंगे। इस पर उमेश वाहन से नीचे उतरा और दर्जनभर लोगों के सामने उन्हें जलील करने लगा। कहा, ज्यादा होशियारी की तो ट्रेलर से कुचल देंगे। चार घंटे में वर्दी उतरवा दूंगा। उसकी बात सुनकर आस-पास के लोग समझाने-बुझाने लगे। बावजूद वह नहीं माना।

गांव वालों ने की मदद
प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, पहुंच और रुतबा पुलिस अफसरों तक बताकर आरक्षक को धमकी देकर आरोपी ने धक्का-मुक्की की। गांव के लोग भी यातायात कर्मी के पक्ष में आ गए। बताया, जिला मुख्यालय मेंयातायात व्यवस्था बेपटरी है। शहर में सुबह नो इन्ट्री के बावजूद भी हैवी वाहन गुजर रहे हैं। वाहन चालकों को कार्रवाई का भय नहीं है। शहर की यातायात व्यवस्था लुंज-पुंज हैं।

हैवी वाहनों के लिए नियम बनाए गए हैं। जिसका पालन कराने के लिए थानों की पुलिस सहित यातायात पुलिस सक्रिय रहती है। यदि ट्रेलर वाहन चालक नो एन्ट्री का पालन नहीं करते हैं तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
रियाज इकबाल, पुलिस अधीक्षक

Ad Block is Banned