एनसीएल ने विद्युत संयंत्रों को किया 113 प्रतिशत कोयला आपूर्ति

कंपनी ने आगे भी यह क्रम जारी रखने का दावा .....

By: Ajeet shukla

Published: 13 Oct 2021, 01:25 AM IST

सिंगरौली. एनसीएल ने बढ़ती ऊर्जा जरूरत के मद्देनजर पर्याप्त कोयले की आपूर्ति का दावा किया है। कंपनी अधिकारियों का कहना है कि कोविड और भारी मानसून की विषम परिस्थितियों के बावजूद भी एनसीएल ने पिछले वर्ष की समान अवधि के प्रेषण 53.44 मिलियन टन की तुलना में चालू वित्त वर्ष में अब तक 15 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 61.51 मिलियन टन कोयला उपभोक्ताओं को मुहैया कराया है।

वित्त वर्ष 2021-22 की प्रथम छमाही में एनसीएल ने पिट हेड पावर प्लांट्स को कोयले की अनुबंधित मात्रा का 113 प्रतिशत आपूर्ति की है। साथ ही इसी अवधि में देश के विभिन्न राज्यों में स्थित पावर प्लांट्स को कोयले की अनुबंधित मात्रा का 102 प्रतिशत कोयला दिया है। कोयला प्रेषण में गति लाते हुए एनसीएल ने अगस्त और सितंबर के महीने में प्रेषण में नए कीर्तिमान स्थापित किए व दो बार एक दिन में सर्वाधिक कोयला प्रेषण का रिकॉर्ड स्थापित किया।

एनसीएल ने विगत 27 अगस्त को 3.87 लाख टन कोयला भेजकर व उसके बाद 6 सितंबर 2021 को 4 लाख टन कोयला प्रेषित कर यह रिकॉर्ड बनाया है। चालू माह में अब तक एनसीएल ने अपने कोयला उपभोक्ताओं को प्रतिदिन लगभग 3.6 लाख टन कोयला भेजा है। सीएमडी एनसीएल पीके सिन्हा ने एक बार फिर ताप विद्युत संयंत्रों सहित अपने सभी कोयला उपभोक्ताओं को निर्बाध कोयला आपूर्ति का भरोसा दिलाया है।

एनसीएल को चालू वित्त वर्ष में 126.5 मिलियन टन कोयला प्रेषण का लक्ष्य सौंपा गया है जो वित्त वर्ष 2020-21 के किए गए वास्तविक कोयला प्रेषण 108.66 मिलियन टन से लगभग 15 प्रतिशत अधिक है। एनसीएल 2015-16 से लेकर पिछले 6 वर्षों से लगातार अपने वार्षिक कोयला उत्पादन लक्ष्य को प्राप्त कर रही है और देश के कोयले की आवश्यकता को पूरा कर रही है। वित्त वर्ष 2021-22 में एनसीएल 119 मिलियन टन के लक्ष्य का पीछा करते हुए अब तक 57.21 मिलियन टन का उत्पादन कर चुकी है। वित्त वर्ष 2020-21 में एनसीएल ने 115.04 मिलियन टन कोयला उत्पादन किया था।

Ajeet shukla Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned