मॉडल स्कूल बनाने शिक्षा विभाग को नहीं मिल रही जमीन

राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा मिशन ने 2016 - 17 में स्कूल निर्माण के लिए करीब दो करोड़ से ज्यादा की राशि जिले को आवंटित की।

By: Vedmani Dwivedi

Updated: 19 Jul 2018, 03:49 PM IST

सिंगरौली. जिले में तीन मॉडल स्कूलों को करीब छह वर्ष पहले स्वीकृति मिली। बैढ़न, देवसर एवं चितरंगी तीनों ब्लॉकों में एक - एक मॉडल स्कूल खोले गए। जिले के प्रतिभाशाली छात्रों का पहले टेस्ट होता है इसके बाद मॉडल स्कूल में प्रवेश दिया जाता है।

जिस समय मॉडल स्कूल खोले गए अच्छी सुविधा का वादा किया गया। लेकिन आज छह वर्ष गुजर गए चितरंगी एवं बैढ़न मॉडल स्कूल का भवन नहीं बन पाया। राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा मिशन ने 2016 - 17 में स्कूल निर्माण के लिए करीब दो करोड़ से ज्यादा की राशि जिले को आवंटित की।

अफसोस की बात यह है कि स्थानीय अधिकारियों ने स्कूल भवन बनाने के लिए समुचित जमीन नहीं उपलब्ध करा पाई। जिसकी वजह से अभी भी निर्माण नहीं शुरू हो पाया। जबकि देवसर मॉडल स्कूल का भवन बनकर तैयार हो गया है। वहां कक्षाएं लग रही हैं।

जंगल विभाग के इशारे पर नाच रहे शिक्षा अधिकारी
जिला प्रशासन ने जो जमीन आवंटित की उस पर जंगल विभाग ने अडंगा लगा दिया। अब शिक्षा अधिकारी जंगल विभाग के अधिकारियों के इशारे पर नाच रहे हैं। जंगल विभाग के अधिकारियों के बताए अनुसार शिक्षा विभाग के जिम्मेदार कई औपचारिकता पूरी कर चुके हैं। इसे बावजूद मामला समाप्त नहीं हो पा रहा है। जंगल विभाग के अधिकारी अपने इशारे पर शिक्षा विभाग के अधिकारियों को नचा रहे हैं।

दो करोड़ से ज्यादा की राशि स्वीकृति
चितरंगी एवं बैढऩ मॉडल स्कूल भवन के लिए राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा मिशन ने 2016 - 17 में दो करोड़ से ज्यादा की राशि स्वीकृति कर चुका है। इससे पहले भी राशि स्वीकृति हुई थी जो बाद में लेप्स हो गई। अब दोबारा राशि मिली है। शिक्षा अधिकारी इस प्रयास में जुटे हुए हैं की जमीन मिल जाए तो निर्माण शुरू हो सके। लेकिन उनके प्रयास सफल नहीं हो पा रहे हैं।

.....................

छह वर्ष हो गया। उत्कृष्ट विद्यालय के बच्चों के साथ ही मॉडल के बच्चों को भी बैठा रहे हैं। 40 बच्चों के बैठने की जगह में 70 बच्चे बैठाने पड़ रहे हैं। इस समस्या के बारे में सभी वरिष्ठ अधिकारियों को पता है। मॉडल स्कूल भवन के लिए जमीन की कुछ समस्या है। जिसकी वजह से निर्माण नहीं शुरू हो पा रहा है।
इंद्रबली उपाध्याय, प्राचार्य मॉडल बैढ़न

मॉडल स्कूल भवन का निर्माण जल्द से जल्द हो सके इसके लिए पिछले कई महीनों से प्रयास कर रहा हूॅ। स्कूल भवन के लिए जो जमीन आवंटित की गई है उस पर जंगल विभाग ने आपत्ति कर दी है। जिसकी वजह से कई प्रकार की दिक्कतें आ रही है। जंगल विभाग के अधिकारियों से अपेक्षित सहयोग नहीं मिल रहा है।
डॉ. पीएन सिंह, प्रभारी राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा मिशन

Vedmani Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned