जीएसटी के नए नियमों का विरोध, व्यापारियों ने बंद किया दुकान

सड़क पर उतरे व्यापारी ....

By: Ajeet shukla

Updated: 26 Feb 2021, 09:55 PM IST

सिंगरौली. जीएसटी के लगातार बदलते नियम से पहले ही परेशान थे। फिर से नया नियम लागू कर दिया गया। ऐसे में व्यापारियों की समस्या बढ़ती ही जा रही है। इन स्थितियों में एक ओर जहां जीएसटी जमा करने में समस्या होती है। वहीं जीएसटी जमा नहीं हो सका तो कार्रवाई की जाएगी। यह किसी भी तरह से उचित नहीं है।

कुछ ऐसे ही तर्कों के साथ व्यापारियों ने जीएसटी के नए नियमों का विरोध किया। साथ ही नियमों से राहत देने और प्रक्रिया को सरल बनाने की अपील की। जीएसटी के नए नियमों का विरोध करते हुए बैढऩ सहित अन्य शहरों के व्यापारियों ने विरोध किया। संयुक्त व्यापार मंडल बैढऩ के अध्यक्ष राजाराम केसरी की अपील पर बैढऩ के अलावा विंध्यनगर, नवानगर, जयंत, मोरवा, देवसर, सरई, चितरंगी व माड़ा सहित अन्य बाजार के व्यापारियों ने दुकान बंद कर विरोध का समर्थन किया।

विरोध करने वालों में व्यापार मंडल बैढऩ के अध्यक्ष राजाराम केसरी, सचिव अजय जायसवाल, उपाध्यक्ष अभिलाष जैन, अनिल सोनी, गोपाल अग्रवाल, प्रमोद, पवन, भरत लाल गुप्ता, ओम प्रकाश गुप्ता, बलराम शाह, राम सिया केसरवानी, अमर सिंह, गोरेलाल शाह, विजय अग्रवाल सहित अन्य लोग शामिल रहे।

व्यापारियों के विरोध का अधिवक्ताओं ने भी समर्थन किया। बार एसोसिएशन के अध्यक्ष राघवेंद्र द्विवेदी, राजीव गुप्ता व चेतन लोइया के अलावा सीए मनोरमा शाहवाल ने भी अपना कार्यालय बंद रखा। राजाराम केसरी ने बताया कि शनिवार को व्यापारी जीएसटी के नियमों से राहत देने के लिए सीधी सांसद को ज्ञापन सौंपेंगे।

प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन एसडीएम को सौंपा
देवसर में व्यापारी संघ के आह्वान पर देवसर भी में व्यापारियों ने दुकान बंद रखा। विरोध स्वरूप दुकान बंद कर व्यापारियों ने प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन एसडीएम विकास सिंह को सौंपा। कैट के जिलाध्यक्ष मिश्रीलाल गुप्ता ने एसडीएम को ज्ञापन सौंप कर उनसे आग्रह किया कि एक सप्ताह के भीतर जीएसटी में बदलाव कराया जाए। ऐसा नहीं किया गया तो व्यापारी संघ आंदोलन एवं धरना प्रदर्शन करने के लिए बाध्य होगा।

Ajeet shukla Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned