2.50 लाख गरीब परिवार के घर पहुंची सौभाग्य की रोशनी

2.50 लाख गरीब परिवार के घर पहुंची सौभाग्य की रोशनी

Vedmani Dwivedi | Publish: Sep, 10 2018 01:25:02 PM (IST) | Updated: Sep, 10 2018 01:34:54 PM (IST) Singrauli, Madhya Pradesh, India

सतना और रीवा का कार्य लगभग पूरा, सीधी-सिंगरौली में चल रहा धीरे

रीवा. गरीब परिवारों के घर तक रोशनी पहुंचाने के लिए शुरू की गई सौभाग्य योजना का रीवा में कार्य पूरा होने की कगार पर है। सतना जिले में लक्ष्य के मुताबिक कार्य हो चुका है लेकिन अभी सीधी और सिंगरौली जिलों में अपेक्षा के अनुरूप काम नहीं हो पा रहा है।

हालत यह है कि लक्ष्य का आधा कार्य भी पूरा नहीं हो पाया है, जबकि अक्टूबर तक काम पूरा करने का लक्ष्य दिया गया था।

सौभाग्य योजना में सभी बीपीएल श्रेणी के उपभोक्ताओं को नि:शुल्क एवं अन्य को 500 रुपए में कनेक्शन प्रदान किया जा रहा है। अब तक कुल लक्ष्य के अनुसार 3.17 लाख घरों में से 2.51 लाख घरों में रोशनी पहुंचाई गई है।

पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के मुताबिक, अगस्त तक रीवा जिले में 52250 लक्ष्य निर्धारित था जिसमें से 48530 कनेक्शन दिए जा चुके हैं। इसी प्रकार सतना में निर्धारित लक्ष्य 42825 को पूरा कर लिया गया है।

सीधी एवं सिंगरौली की हालत अत्यंत खराब है। सबसे नीचे सिंगरौली है। यहां 53326 कनेक्शन देने का लक्ष्य अक्टूबर तक निर्धारित किया गया है, लेकिन अभी तक महज 25854 कनेक्शन ही दिए जा सके हैं।

इसी प्रकार सीधी की हालत भी ज्यादा ठीक नहीं है। यहां सितंबर तक 49246 कनेक्शन देने थे लेकिन अभी तक महज 26631 कनेक्शन ही दिए जा सके हैं। सीधी एवं सिंगरौली में धीरे कार्य होने की वजह से पूरे संभाग का आंकड़ा गड़बड़ा रहा है।

कंपनी के अधिकारियों की माने तो सतना एवं रीवा का कार्य पूरा होने के बाद सीधी एवं सिंगरौली के कार्य में तेजी लाने का प्रयास शुरू हो गया है। समय पर लक्ष्य पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है।

सौभाग्य योजना के तहत हर घर तक बिजली पहुंचाने के लिए विद्युत पोल लगाए जा रहे हैं। जिन घरों से विद्युत पोल की दूरी ज्यादा थी उसे कम किया जा रहा है।

सीधी एवं सिंगरौली जिलों में जिन कंपनियों को काम दिया गया है वे अत्यंत धीमी गति से काम कर रही है। बताया जा रहा है कि पोल लगाने में घटिया स्तर का काम हो रहा है। फर्म न केवल काम में देरी कर रही है बल्कि गुणवक्तायुक्त काम नहीं करने का आरोप भी लग रहा है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned