आग की लपटों पर पलक झपकते फायर ब्रिगेड ने पाया काबू

आग की लपटों पर पलक झपकते फायर ब्रिगेड ने पाया काबू

Ajit Shukla | Publish: Apr, 21 2019 10:23:18 PM (IST) Singrauli, Singrauli, Madhya Pradesh, India

एनटीपीसी में क्षमता प्रदर्शन...

सिंगरौली. एनटीपीसी विंध्यनगर के परिसर में अचानक से धधक उठी आग की लपटों को फायर ब्रिगेड के कर्मचारियों ने पलक झपकते काबू में कर लिया। क्षमता प्रदर्शन के जीवंत प्रस्तुति के तहत आग की लपटे फायर ब्रिगेड कर्मचारियों की ओर से कृत्रिम तरीके से तैयार की गई थी, लेकिन जब लपटें आसमान को चूमने लगी तो वहां बैठे सभी लोग एक पल के लिए सहम गए। उन्हें लगा कि कहीं कृत्रिम तरीके से लगाई गई ये आग हकीकत की घटना में न तब्दील हो जाए, लेकिन जब पलक झपकते टीम ने आग पर काबू पाया तो पूरा इलाका तालियों की गडग़ड़ाहट से गूंज उठा।

अग्निशमन सेवा सप्ताह के समापन अवसर पर केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल की अग्नि शाखा ने अपनी क्षमता का प्रदर्शन कर दर्शकों को यह एहसास कराया कि उन्हें समय रहते आग की घटना की सूचना दी जाए तो वह बड़े से बड़े हादसे पर पलक झपके काबू पा सकते हैं।

सेवा सप्ताह के समापन समारोह में इससे पहले परियोजना के कार्यकारी निदेशक एके तिवारी ने कहा कि अग्निशमन शाखा के कार्य, योजना व क्षमता प्रशंसा के योग्य है। शाखा पर पूरी तरह से विश्वास किया जा सकता है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि यह आवश्यक हो गया है कि अग्नि दुर्घटनाओं की संख्याओं को कम किया जाए।इसके लिए ‘आग बुझाने से बेहतर, आग की रोकथाम’ जैसे स्लोगन पर अमल करना होगा।

संबोधन के बाद मुख्य अतिथि ने सप्ताह भर में आयोजित विविध प्रतियोगिताओं के विजयी प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया। कार्यक्रम की शुरुआत में सहायक कमांडेंट अग्नि एसवी रेड््डी ने शाखा की व्यवस्थाओं व सप्ताह भर आयोजित कार्यक्रमों सहित अन्य बिन्दुओं पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम का संचालन निरीक्षक अग्नि एके शर्मा ने किया व धन्यवाद ज्ञापन फायर विंग प्रभारी सहायक कमांडेंट अग्नि एसवी रेड््डी ने किया।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned