scriptSingrauli administration filed a case in the police station | हाइवे पर प्रदर्शन के मामले में पूर्व मंत्री पर तहसीलदार ने दर्ज कराई एफआइआर | Patrika News

हाइवे पर प्रदर्शन के मामले में पूर्व मंत्री पर तहसीलदार ने दर्ज कराई एफआइआर

एक दिन पहले विरोध प्रदर्शन के दौरान सीधी-सिंगरौली हाइवे पर लग गया था लंबा जाम.....

सिंगरौली

Updated: August 27, 2021 09:16:00 pm

सिंगरौली. देवसर में हाइवे पर प्रदर्शन के मामले में पूर्व मंत्री व सिहावल विधायक के खिलाफ जियावन थाना में मुकदमा दर्ज कराया गया है। बीते गुरुवार को सिहावल विधायक की ओर से बिना अनुमति लिए महंगाई के विरोध में हाइवे पर विरोध प्रदर्शन किया था। इस दौरान सीधी-सिंगरौली हाइवे पर लंबा जाम लग गया था और आम जन मानस को परेशानियां हुई थी। इसके मद्देनजर देवसर तहसीलदार वंश राखन सिंह की रिपोर्ट पर जियावन पुलिस ने पूर्व मंत्री व सिहावल विधायक कमलेश्वर पटेल सहित कई लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है।
Singrauli administration filed a case in the police station
Singrauli administration filed a case in the police station
जियावन पुलिस ने बताया कि देवसर ब्लाक मुख्यालय में हाइवे-39 पर बिना अनुमति लिए सिहावल विधायक कमलेश्वर पटेल ने पैदल मार्च के बाद विशाल धरना प्रदर्शन आयोजित किया था। इससे राहगीर व वाहन चालकोंं को न केवल परेशानियां हुई थी बल्कि दिनभर उन्हें देवसर में गुजारना पड़ा है और उनकी फजीहत हो गई है। स्थानीय प्रशासन के निर्देश व तहसीलदार की शिकायत पर जियावन थाना में पूर्व मंत्री व सिहावल विधायक सहित अन्य ढाई हजार लोगों के खिलाफ राष्ट्रीय राज्यमार्ग अधिनियम १९५६ की धारा 8(ख) एवं 341, 147, 149 आइपीसी की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।
इसलिए आयोजित हुआ था धरना प्रदर्शन
सिहावल विधायक के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने महंगाई, बेरोजगारी व प्रदेश में ध्वस्त कानून व्यवस्था के विरोध में विशाल पैदल मार्च के बाद विरोध प्रदर्शन किया था। सिहावल विधायक ने कहा था कि प्रदेश सरकार जनता के साथ छलावा कर रही है। रसोई गैस, डीजल-पेट्रोल का दाम आसमान छू रहा है सहित कई समस्याओं को लेकर राष्ट्रीय राजमार्ग को पूरी तरीके से अवरुद्ध कर दिया गया था।
12 घंटे वाहन चालकों की हुई मुसीबत
जनसभा को लेकर वाहनों के पहिए पूरी तरह से थम गए थे। आवागमन प्रतिबंधित होने के चलते रोजमर्रा की वस्तुएं सही समय पर लोगों के पास नही पहुंच पाई। आम जनता इस जाम के चलते काफी परेशान रही। इसके अलावा जनसभा की अनुमति स्थानीय प्रशासन से नहीं ली गई थी। जिसके चलते स्थानीय प्रशासन ने राष्ट्रीय राज्यमार्ग पर 10 घंटे से अधिक समय तक अवरोध उत्पन्न करने के मामला में मामला दर्ज कराया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

Assam Flood: असम में बारिश और बाढ़ से भीषण तबाही, स्टेशन डूबे, पानी के बहाव में ट्रेन तक पलटीराजस्थान BJP में सियासी रार तेज: वसुंधरा ने शायरी से साधा निशाना... जिन पत्थरों को हमने दी थीं धड़कनें, वो आज हम पर बरस...कांग्रेस के बाद अब 20 मई को जयपुर में भाजपा की राष्ट्रीय बैठक, ये रहा पूरा कार्यक्रमTRAI के सिल्वर जुबली प्रोग्राम में PM मोदी ने लॉन्च किया 5G टेस्ट बेड, बोले- इससे आएंगे सकारात्मक बदलावपूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिंदबरम के बेटे के घर पर CBI की रेड, कार्ति बोले- कितनी बार हुई छापेमारी, भूल चुका हूं गिनतीक्रिकेट इतिहास के 5 सबसे लंबे गेंदबाज, नंबर 1 की लंबाई है The Great Khali के बराबरकुतुब मीनार और ताजमहल हिंदुओं को सौंपे भारत सरकार, कांग्रेस के एक नेता ने की है यह मांगकोर्ट में ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट पेश होने में संशय, दूसरी ओर सुप्रीम कोर्ट में एक बजे सुनवाई, 11 बजे एडवोकेट कमिश्नर पहुंचेंगे जिला कोर्ट
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.