सिर्फ एक क्लिक और मालामाल हो गए किसान, प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री ने किया एक और वादा

विधायक ने बताया कृषि बिल में संशोधन का लाभ ....

By: Ajeet shukla

Updated: 18 Dec 2020, 11:13 PM IST

सिंगरौली. कृषि बिल में संशोधन के बाद किसान व्यावसायिक रूप से खेती कर सकता है। व्यापारियों से अनुबंध कर खेती के जरिए अच्छा मुनाफा कमा सकता है। किसान फैलाए जा रहे भ्रम में नहीं पड़ें। खुद के फायदे की बात समझें। यह बातें सिंगरौली विधायक रामलल्लू वैश्य ने कही। किसान सम्मेलन के जिला स्तरीय कार्यक्रम में विधायक बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित रहे।

जिला प्रशासन की ओर से अटल सामुदायिक भवन में आयोजित किसान सम्मेलन में किसानों को न केवल योजनाओं के लाभ से लाभान्वित किया गया। बल्कि उन्हें रायसेन में आयोजित कार्यक्रम का सीधा प्रसारण भी दिखाया गया। कार्यक्रम दौरान किसानों ने प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री का संबोधन भी सुना। मुख्यमंत्री ने रायसेन में एक क्लिक से खरीफ फसल की क्षतिपूर्ति की 1600 करोड़ रुपए की राशि किसानों के खाते में डाली।

मुख्यमंत्री ने इस दौरान केंद्र द्वारा पारित तीनों कृषि कानूनों के बारे में विस्तार से किसानों को बताया। मुख्यमंत्री के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी किसानों के लिए किए जा रहे बदलावों के बारे में किसानों को बताया। इसके पहले सिंगरौली विधायक रामलल्लू व कलेक्टर राजीव रंजन मीना, सीइओ जिला पंचायत साकेत मालवीय, अपर कलेक्टर डीपी बर्मन व समाजसेवी गिरिजा प्रसाद पाण्डेय ने दीप प्रज्वलित कर सम्मेलन का शुभारंभ किया।

कलेक्टर ने इस अवसर पर किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि जिले के किसानों को शासन की विभिन्न योजनाओं से लाभान्वित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिले में 44 उपार्जन केंद्रों के माध्यम से जिले के 7265 किसानों से 35839 क्विंटल धान की खरीदी की गई है। किसानो के खाते में करीब 25 करोड़ रुपए का भुगतान किया जा चुका है। समाजसेवी गिरिजा पाण्डेय ने सरकार द्वारा किसानों के हित में किए जा रहे कार्यों से अवगत कराया।

किसानों को दिया गया केसीसी
किसान सम्मेलन में जिले 7 किसानों को केसीसी, 5 किसानों को उद्यानिकी विभाग द्वारा सब्जी बीज का किट, 5 किसानों को मत्स्य विभाग ने मत्स्य वितरण के लिए किसान क्रेडिट कार्ड, जिला व्यापार उद्योग केंद्र द्वारा चार हितग्राहियों को शासन द्वारा संचालित योजनाओं के ऋण स्वीकृत प्रमाण पत्र, 6 हितग्राहियों को वनाधिकार का प्रमाण पत्र व 5 किसानों को कृषि विभाग द्वारा स्प्रेयर पंप से लाभान्वित किया गया।

62758 किसानों ने देखा प्रसारण
किसान सम्मेलन में जिले 62758 किसानों ने प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री का सीधा प्रसारण के तहत संबोधन सुना। जिला स्तर पर कार्यक्रम देखने वाले किसानों की 2072, तीनों विकासखंड स्तर पर 1892 और ग्राम पंचायत स्तर पर 58794 किसानों ने सीधा प्रसारण देखा।

Ajeet shukla Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned