scriptSingrauli food dept team reached RO plant to test water | आखिर में टूटी नींद, पानी की जांच करने आरओ प्लांट में पहुंची टीम | Patrika News

आखिर में टूटी नींद, पानी की जांच करने आरओ प्लांट में पहुंची टीम

बिना पंजीयन पानी पाउच की कर रहे थे सप्लाई, पत्रिका ने उठाया मुद्दा तो सक्रिय हुए अधिकारी .....

सिंगरौली

Published: April 20, 2022 11:34:12 pm

सिंगरौली. डिब्बा व पाउच में पानी की सप्लाई करने वाली फैक्ट्रियों में जांच करने अचानक से टीम प्लांटों में पहुंच गई। जहां कई फैक्ट्री बिना पंजीयन के संचालित हो रहे थे। वहीं ज्यादातर में कुछ अन्य गड़बड़ी मिली है। दूषित पानी को लेकर पत्रिका ने मुद्दा उठाया था। इसके बाद अफसरों की नींद टूटी और पानी पाउच बना रही फैक्ट्रियों में जांच करने के लिए टीम पहुंची। इस दौरान शहर में सचंालित अन्य फैक्ट्री सचंालक दहशत में आ गए।
Singrauli food dept team reached RO plant to test water
Singrauli food dept team reached RO plant to test water
आरओ प्लांट में टीम ने बारीकी से निरीक्षण कर सैंपल लेकर उसे जांच के लिए भेज दिया है। साथ ही बिना लाइसेंस पानी पाउच की पैकिंग कर रहे फैक्ट्री को बंद कराया गया है। खाद्य सुरक्षा विभाग के अधिकारी ने बताया है कि शहर में ऐसे कई पानी की फैक्ट्री संचालित हो रही हैं। शिकायत मिलने पर संबंधित फैक्ट्री पर छापामार कार्रवाई की जा रही है।
बताया गया है कि शहरी क्षेत्र में पानी की सप्लाई कर रहे संचालकों को पूर्व में अवगत कराया गया था कि फैक्ट्री का लाइसेंस लेकर मानक को ध्यान में रखते हुए संचालन करें। लेकिन पानी फैक्ट्री को संचालित कर मनमानी तरीके से समूचे शहर में सप्लाई की जाने लगी। इसकी शिकायत जब विभाग के अधिकारियों को मिली तो नींद से जागे अफसर कोतवाली पुलिस के साथ फैक्ट्री में पहुंचकर कार्रवाई किया है।
जांच में यह मिली गड़बड़ी
खाद्य सुरक्षा अधिकारी ओपी साहू ने बताया है कि बलियरी बैढऩ में पानी की फैक्ट्री बिना लाइसेंस की संचालित हो रही थी। वहीं पानी पाउच पर पता बरगवां लिखा गया था लेकिन उसकी पैकिंग बलियरी में की जा रही थी। इसके अलावा पाउच पर तारीख नहीं लिखा गया था। वहीं गंदगी व कीडों के बीच परिसर में पानी पाउच की पैकिंग की जा रही थी। पानी पाउच का नमूला लेकर उसे जांच के लिए प्रयोगशाला भेजा गया है। वहीं बिना लाइसेंस संचालित फैक्ट्री मालिक के खिलाफ कार्रवाई कर उसे सिल कराया गया है।
जारी रहेगी कार्रवाई
बताया गया है कि बिना लाइसेंस व गंदा पानी पाउच में पैकिंग कर बिक्री करने वाले संचालकों के खिलाफ लगातार कार्रवाई जारी रहेगी। जांच में गड़बड़ी मिलने पर खाद्य सुरक्षा व मानक अधिनियम 2006 के तहत कार्रवाई की जाएगी और तीन लाख रुपए जुर्माना किया जाएगा। पूर्व में भी इस तरह की फैक्ट्रियों पर कार्रवाई की गई है। आगे भी यह कार्रवाई पानी पाउच व बॉटल सहित शहरी क्षेत्र में पानी की सप्लाई करने वालों के खिलाफ खाद्य सुरक्षा विभाग की ओर से कार्रवाई की जाएगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Amravati Murder Case: उमेश कोल्हे की हत्या का मास्टरमाइंड नागपुर से गिरफ्तार, अब तक 7 आरोपी दबोचे गए, NIA ने भी दर्ज किया केसमोहम्‍मद जुबैर की जमानत याचिका हुई खारिज,दिल्ली की अदालत ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजाSharad Pawar Controversial Post: अभिनेत्री केतकी चितले ने लगाए गंभीर आरोप, कहा- हिरासत के दौरान मेरे सीने पर मारा गया, छेड़खानी की गईIndian of the World: देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस को यूके पार्लियामेंट में मिला यह पुरस्कार, पीएम मोदी को सराहाGujarat Covid: गुजरात में 24 घंटे में मिले कोरोना के 580 नए मरीजयूपी के स्कूलों में हर 3 महीने में होगी परीक्षा, देखे क्या है तैयारीराज्यसभा में 31 फीसदी सांसद दागी, 87 फीसदी करोड़पतिकांग्रेस पार्टी ने जेपी नड्डा को BJP नेता द्वारा राहुल गांधी से जुड़ी वीडियो शेयर करने पर लिखी चिट्ठी, कहा - 'मांगे माफी, वरना करेंगे कानूनी कार्रवाई'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.