scriptSingrauli: Govt dept sat by suppressing electricity bill of more than | सरकारी विभाग 3 करोड़ से अधिक का बिजली बिल दबा कर बैठे | Patrika News

सरकारी विभाग 3 करोड़ से अधिक का बिजली बिल दबा कर बैठे

बिजली बचत को लेकर सक्रिय नहीं, बिल जमा करने में कंजूसी .....

सिंगरौली

Updated: February 21, 2022 11:37:00 pm

सिंगरौली. विद्युत ऊर्जा की बचत को लेकर ऊर्जाधानी में ही खास सक्रियता देखने को नहीं मिल रही है। व्यापारियों व निजी कार्यालयों की बात तो दूर सरकारी विभाग ही बिजली की बचत को लेकर गंभीर नहीं है। ज्यादातर शासकीय विभागों में ऊर्जा बचत से संबंधित निर्देश नजरअंदाज हैं। ऊर्जा बचत को लेकर बेपरवाह विभागों की ओर से बिजली का बिल जमा करने में भी सक्रियता नहीं दिखाई जा रही है। यही वजह है कि जिले भर में संचालित शासकीय कार्यालयों पर एमपीइबी का तीन करोड़ से अधिक का बिजली बिल बकाया है।

शासकीय विभागों पर बकाया बिजली का बिल जमा कराने को लेकर एमपीइबी की ओर से कई तरह के हथकंडे अपनाए गए। कई बार नोटिस भी जारी की गई, लेकिन विभागों की ओर बिल जमा करने में कोई खास रुचि नहीं दिखाई गई। बात बकाया बिल की करें तो केवल शहरी क्षेत्र में संचालित विभागों पर 1.95 करोड़ रुपए बकाया है। ग्रामीण अंचल के कार्यालयों पर बकाया राशि जोड़ी जाए तो यह रकम 3 करोड़ रुपए से अधिक की होती है। फिलहाल अब कंपनी मुख्यालय के निर्देश पर यहां स्थानीय अधिकारी सरकारी विभागों पर बड़ी कार्रवाई करने की तैयारी में हैं। बिल जमा नहीं करने की स्थिति में कनेक्शन काटने का अभियान चलाया जाएगा। इससे विभागों को काफी समस्या हो सकती है।
Singrauli: Govt dept sat by suppressing electricity bill of more than 3 crores
Singrauli: Govt dept sat by suppressing electricity bill of more than 3 crores
कलेक्ट्रेट में ही ऊर्जा बचत को लेकर उदासीनता
वैसे तो कलेक्टर में विद्युत ऊर्जा की बचत को लेकर सोलर पैनल लगाया गया है, लेकिन बिजली के उपयोग की बात करें तो इसमें बचत को लेकर अधिकारी उदासीन है। बिजली की बचत को लेकर पहला निर्देश एलइडी बल्ब व ट्यूबलाइट के उपयोग करने को लेकर है। जबकि कलेक्ट्रेट में एडीएम चेंबर सामने की गैलरी सहित अन्य कई विभागों में अभी भी सामान्य व सीएफएल बल्ब व ट्यूबलाइट का प्रयोग किया जा रहा है।
सोलर पैनल लगाने में नहीं दिखाई जा रही रुचि
विद्युत ऊर्जा की बचत को लेकर सभी शासकीय कार्यालयों में सोलर पैनल लगवाने के लिए आदेश जारी है, लेकिन विभाग प्रमुख शासन स्तर से जारी इस आदेश को लेकर उदासीन हैं। वैसे तो एनसीएल व एनटीपीसी की ओर से सोलर पैनल का उपयोग किया जा रहा है, लेकिन अभी भी यह नाकाफी है। जबकि देश को रोशन करने वाली ऊर्जाधानी को बिजली बचत का संदेश भी देना है। इसके विपरीत स्थिति कुछ अलग ही है।
शहरी क्षेत्र के विभाग, जिन पर बकाया है बिल
विभाग---बकाया बिजली बिल
शिक्षा विभाग---33.5
स्वास्थ्य विभाग---25.0
नगर निगम---25.0
राजस्व विभाग---12.0
जनजाति विभाग---10.0
लोक निर्माण विभाग---6.0
सहकारिता विभाग---2.6
लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी---2.5
वन विभाग ---1.5
कृषि विभाग---0.5
अन्य शास. विभाग 15
(बिजली बिल का बकाया राशि लाख रुपए में हैं।)
इसलिए एलइडी लगाने का है निर्देश
- एलइडी बल्ब सीएफएल की तुलना में कम बिजली खपत करता है।
- एलइडी से सीएफएल की तुलना में करीब 80 फीसदी ऊर्जा बचती है।
- एक एलइडी बल्ब की लाइफ आमतौर पर 50000 घंटे होती है।
- एक सीएफएल बल्ब की सामान्यता 8000 घंटे तक चल सकता है।
- एलइडी बल्ब की तुलना में सीएफएल जल्दी व अधिक गर्म होता है।
- सीएफएल की तुलना में एलइडी बल्ब अधिक प्रकाश देता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

अनिल बैजल के इस्तीफे के बाद Vinai Kumar Saxena बने दिल्ली के नए उपराज्यपालISI के निशाने पर पंजाब की ट्रेनें? खुफिया एजेंसियों ने दी चेतावनीममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, कहा - 'भाजपा का तुगलगी शासन, हिटलर और स्टालिन से भी बदतर'Haj 2022: दो साल बाद हज पर जाएंगे मोमिन, पहला भारतीय जत्था 4 जून को होगा रवानाWomen's T20 Challenge: पहले ही मैच में धमाकेदार जीत दर्ज की सुपरनोवास ने, ट्रेलब्लेजर्स को 49 रनों से हरायालगातार बारिश के बीच ऑरेंज अलर्ट जारी, केदारनाथ यात्रा पर लगी रोक, प्रशासन ने कहा - 'जो जहां है वहीं रहे'‘सिंधिया जिस दिन कांग्रेस छोडक़र गए थे, उसी दिन से उनका बुढ़ापा शुरू हो गया था’Asia Cup Hockey 2022: अब्दुल राणा के आखिरी मिनट में गोल की वजह से भारत ने पाकिस्तान के साथ ड्रा पर खत्म किया मुकाबला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.