वायपास रोड़ एवं एयरपोर्ट को लेकर मेयर ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात

रेल्वे लाईन का दोहरी करण, वायपास रोड का निर्माण

By: Vedmani Dwivedi

Updated: 07 Jun 2018, 05:52 PM IST

सिंगरौली. नगर पालिक निगम सिंगरौली की महापौर प्रेमवती खैरवार ने गुरुवार को भोपाल में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से भेंट की और उनके समक्ष नगर निगम सहित जिले के विकास को लेकर अपना 15 सूत्रीय मांग पत्र सौंपा।

महापौर ने अपने मांग पत्र में कहा कि नगर निगम क्षेत्र के अंतर्गत अधिकांश गरीब व्यक्ति निवास करते हैं। एनसीएल, एनटीपीसी के सीएसआर मद की राशि जिले के विकास कार्य में लगाये जाने से इस क्षेत्र के विकास कार्य में प्रगति होगी।

पत्र में आरोप लगाया कि एनसीएल एनटीपीसी द्वारा सीएसआर मद की राशि को विकास कार्य में उपयोग नहीं किया जा रहा है। इस कारण क्षेत्र का विकास कार्य प्रभावित हो रहा है। नतीजतन, केन्द्रीय सर्वे में जिला देश के सबसे पिछड़े जिलो में तीसरे स्थान पर है अत: सीएसआर मद की राशि का अधिकांश भाग नगरीय क्षेत्र में व्यय किया जाना उपयुक्त होगा।

मुख्यमंत्री को बताया गया कि निगम क्षेत्र के अंतर्गत एनसीएल की विभिन्न परियोजनाएं संचालित हैं जिससे अनेक स्थानों मे कोयला उत्खनन तथा ट्रांसपोर्टेशन का कार्य किया जाता है। इस कारण आम जनता प्रदूषण से बुरी तरह त्रस्त है।

दैनिक जीवन बीमारू हालत में जीने को मजबूर है। साथ परियोजना में चलने वाले भारी वाहनों से आए दिन दुर्घटना घटित होती रहती जिससे प्रतिदिन कई लोग दुर्घटना का शिकार हो रहे है।

महापौर द्वारा मांग की गई कि यदि कोल परिवहन हेतु कन्वेयर बेल्ट या पाईप का प्रबंध प्रदूषण व दुर्घटनाओं की रोकथाम कर सकता है। विद्युत परियोजनाओं में लगने वाली चिमनी का अधुनिकीकरण कर वायु प्रदूषण को रोका जा सकता है।

शासन द्वारा जनहित में आई.पी.डी.एस सौभाग्य योजना संचालित है लेकिन उक्त योजना का समुचित क्रियान्वन नहीं होने के कारण पात्र हितग्राहियों को समुचित लाभ नहीं मिल पा रहा है।

महापौर ने मुख्यमंत्री का ध्यान इस ओर आकृष्ट कराया कि जिले का अधिकांश भाग एनसीएल, एनटीपीसी, रिलायंस, हिन्डाल्को एवं अन्य परियोजनाओं द्वारा अधिग्रहित किया गया है और उनके द्वारा अधिग्रहीत जमीन के लोगों को न तो उचित मुआवजा दिया जा रहा है और न ही नौकरी के साथ साथ जीविकोपार्जन की उचित व्यवस्था की गई है।

एक बड़े स्टेडियम के निर्माण के साथ साथ खिलाडिय़ों को ट्रेनिग सेन्टर प्रदाय किये जाने की आवश्यकता जताते हुए महापौर खैरवार ने कहा कि जिले में उच्च स्तर के राष्ट्रीय एयरपोर्ट का निर्माण एक जरुरत बनकर उभरी है। इससे बड़े औद्योगिक शहरों से कनेक्टिविटी बढ़ेगी।

मरीजों के चिकित्सा के लिए जिले में एम्स की एक शाखा के स्थापना कराना उचित होगा। साथ ही रीवा से राची नेशनल हाईवे का निर्माण तत्काल पूर्ण किया जाय। गडहरा से तेलगवां, माजन बगीचा से कुन्दन एजेन्सी तक वायपास रोड का निर्माण कराया जाय एवं जिले में आने वाली रेल्वे लाईन का दोहरी करण जल्द कराया जाय।

मांग पत्र में चितरंगी बगदरा, लमसरई आदि स्थानों में मोबाइल नेटवर्क बढ़ाने का आग्रह किया गया।

 

Vedmani Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned