scriptSpending 150 crores, consumers are still getting only date for drinkin | डेढ सौ करोड़ खर्च होने के बाद भी उपभोक्ताओं को अभी पेयजल के लिए मिल रही केवल तारीख | Patrika News

डेढ सौ करोड़ खर्च होने के बाद भी उपभोक्ताओं को अभी पेयजल के लिए मिल रही केवल तारीख

बैढऩ जोन के आधे शहर को भी नगर निगम नहीं दे पाया पानी, पेयजल के लिए जूझ रहे रहवासी ....

सिंगरौली

Published: May 02, 2022 11:54:46 pm

सिंगरौली. रिहंद जलाशय में वाटर ट्रीटमेंट प्लांट स्थापित करने सहित मोहल्लों में पाइपलाइन बिछाने में नगर निगम डेढ़ सौ करोड़ रुपए से अधिक का बजट खर्च कर चुका है, लेकिन बैढऩ जोन के आधे रहवासियों को अभी पेयजल उपलब्ध नहीं हो पाया है। नल से पेयजल मुहैया कराने को लेकर उपभोक्ताओं को केवल तारीख मिल रही है।
Spending 150 crores, consumers are still getting only date for drinking water
Spending 150 crores, consumers are still getting only date for drinking water
नगर निगम के प्रशासक एवं कलेक्टर ने पहले एक अप्रेल तक हर घर में नल कनेक्शन करने की तारीख तय की थी। अब अगले महीने की तारीख तय कर दी गई है। पाइपलाइन बिछाने की सुस्त कार्य प्रगति को देखते हुए नहीं लगता है कि मई में भी रहवासियों को पाइपलाइन के जरिए जलापूर्ति संभव हो पाएगी।
30 हजार से अधिक घरों में नल कनेक्शन का लक्ष्य
पेयजल के लिए नगर निगम ने पूरे क्षेत्र को दो जोन में विभाजित किया है। पहला मोरवा जोन और दूसरा बैढऩ जोन है। बैढऩ जोन में निगम को 30 हजार से अधिक घरों में नल कनेक्शन देना है, लेकिन अभी तक 5 हजार घरों में भी वैध कनेक्शन नहीं दिया जा सका है। यह बात और है कि पाइप लाइन बिछाने के दौरान टेस्टिंग के तौर पर दिए गए कनेक्शन के जरिए केवल 15 हजार घरों में जलापूर्ति हो रही है।
माजन मोड़ से आगे के ज्यादातर मोहल्ले वंचित
पाइपलाइन के जरिए पेयजल आपूर्ति की सुविधा से बैढऩ जोन के आधे से अधिक रहवासी इसलिए वंचित हैं, क्योंकि निगम की ओर से अभी माजन मोड़ से परसौना और माजन मोड़ से नवानगर तक अभी पाइपलाइन बिछाने का कार्य ही पूरा नहीं किया जा सका है। इसके अलावा नवजीवन विहार से माजन मोड़ के बीच भी कई मोहल्लों में पाइपलाइन बिछाना अभी बाकी है। नतीजा बैढऩ जोन के आधे से अधिक रहवासी नल से पेयजल की सुविधा से वंचित हैं।
फैक्ट फाइल
30 हजार से अधिक घरों में नल कनेक्शन देना है
15 हजार घरों में जा रही है नल से पेयजल
05 हजार के करीब कनेक्शन हुए हैं वैध
15 हजार से अधिक घरों में जलापूर्ति करना बाकी
10 हजार से अधिक अवैध कनेक्शन को वैध करना

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

किसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामपैदाइशी भाग्यशाली माने जाते हैं इन 3 राशियों के बच्चे, पिता की बदल देते हैं तकदीरइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथ7 दिनों तक मीन राशि में साथ रहेंगे मंगल-शुक्र, इन राशियों के लोगों पर जमकर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपादो माह में शुरू होने वाला है जयपुर में एक और टर्मिनल रेलवे स्टेशन, कई ट्रेनें वहीं से होंगी शुरूपटवारी, गिरदावर और तहसीलदार कान खोलकर सुनले बदमाशी करोगे तो सस्पेंड करके यही टांग कर जाएंगेआम आदमी को राहत, अब सिर्फ कमर्शियल वाहनों को ही देना पड़ेगा टोल15 जून तक इन 3 राशि वालों के लिए बना रहेगा 'राज योग', सूर्य सी चमकेगी किस्मत!

बड़ी खबरें

IPL 2022 LSG vs KKR : डिकॉक-राहुल के तूफान में उड़ा केकेआर, कोलकाता को रोमांचक मुकाबले में 2 रनों से हरायानोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेरपुलिस में मामला दर्ज, नाराज कांग्रेस विधायक का इस्तीफा, जानें क्या है पूरा मामलाडिकॉक-राहुल ने IPL में रचा इतिहास, तोड़ डाला वार्नर और बेयरेस्टो का 4 साल पुराना रिकॉर्डDelhi LG Resigned: दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने दिया इस्तीफा, निजी कारणों का दिया हवालाIndia-China Tension: पैंगोंग झील पर बॉर्डर के पास दूसरा पुल बना रहा चीन, सैटेलाइट इमेज से खुलासाWatch: टेक्सास के स्कूल में भारतीय अमेरिकी छात्र का दबाया गला, VIDEO देख भड़की जनताHeavy rain in bangalore: तेज बारिश से दो मजदूरों की मौत, मुख्यमंत्री ने की मुआवजे की घोषणा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.