चहली गांव का मामला :सब्जी की आड़ में हो रही थी गांजा की खेती, आरोपी धराया

चहली गांव का मामला :सब्जी की आड़ में हो रही थी गांजा की खेती, आरोपी धराया

Anil Kumar | Publish: Nov, 10 2018 11:44:38 PM (IST) | Updated: Nov, 10 2018 11:44:39 PM (IST) Singrauli, Madhya Pradesh, India

खेत से बरामद हुए डेढ़ लाख कीमत के गांजा के पौधे
लंबे समय से कर रहा था खेती, जियावन पुलिस की कार्रवाई

सिंगरौली. सब्जी की आड़ में गांजे के पौधों की खेती का जियावन पुलिस ने भंडाफोड़ किया है। खेती का यह कारोबार आरोपी लंबे समय से कर रहा था, लेकिन पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लगी थी। आखिर इस अवैध कारोबार का जियावन टीआई ने भंडाफोड़ किया। मुखबिर की सूचना पर टीआई ने पुलिस टीम के साथ चहली गांव में दबिश दिया। जहां देखा कि आरोपी सब्जी की आड़ में गांजे के पौधे लगे हैं। पुलिस ने करीब १५ किलो से अधिक गांजा के पौधे बरामद किया है। वहीं आरोपी को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई किया है।

पुलिस पर मिलीभगत का आरोप
जानकारी के मुताबिक चहली गांव निवासी आरोपी सर्जुन सिंह गोड़ अपने आंगन के सामने बाड़ी में गांजा के पौधे लगा लगा था। यह कारोबार लंबे समय से चल रहा था। जियावन थाने के तथाकथित कुछ पुलिसकर्मियों का सरंक्षण मिला था, जिससे यह अवैध करोबार नजर में नहीं आ सका। आखिरकार जियावन टीआई अनिल उपाध्याय को मुखबिरों ने इसकी सूचना दे दिया। सूचना के बाद टीआई टीम के साथ चहली गांव पहुंचे। जहां उन्होंने पाया कि आरोपी की बाड़ी में गांजा के बड़े-बड़े पौधे तैयार हो गए थे। पुलिस ने उन पौधों को जब्त करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। करीब १५ किलो पौधे पुलिस ने बरामद किया है। जिसकी कीमत करीब डेढ़ लाख रुपए बताई गई है। आरोपी के खिलाफ पुलिस ने एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई किया है।

अभियान के दौरान पुलिस को आई सुध
बता दें कि विधानसभा चुनाव के मद्देनजर नशे के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के तहत पुलिस ने इस अवैध कारोबार के खिलाफ सुध ली है। यदि यह अभियान नहीं चलता तो शायद यह अवैध कारोबार न ही पुलिस की नजर में आता और न ही कार्रवाई हो पाती। फिलहाल देर से ही सही पुलिस की सक्रियता से अवैध कारोबार पर नकेल लग सका।

एसपी के निर्देश पर हुई कार्रवाई
यह कार्रवाई एसपी रियाज इकबाल व एएसपी प्रदीप शेन्डे के निर्देशन एवं एसडीओपी देवसर के मार्गदर्शन में टीआई जियावन अनिल उपाध्याय के नेतृत्व में गठित टीम ने की है। टीम में एएसआई असमनलाल, प्रशिक्षु एसआई खेलन सिंह करिहार, प्रधान आरक्षक महेन्द्र त्रिपाठी, नन्द प्रकाश सिंह, आरक्षक पुष्पराज सिंह, आशीष द्विवेदी, शैलेन्द्र सिंह सहित जियावन थाना के अन्य पुलिस कर्मी शामिल रहे।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned