scriptVillagers caught black marketing of food grains from fair price shop | उचित मूल्य की दुकान से ग्रामीणों ने पकड़ा खाद्यान्न की कालाबाजारी | Patrika News

उचित मूल्य की दुकान से ग्रामीणों ने पकड़ा खाद्यान्न की कालाबाजारी

कलेक्टर से शिकायत, कोटेदार के खिलाफ कार्रवाई की मांग .....

सिंगरौली

Updated: December 23, 2021 11:29:56 pm

सिंगरौली. शासकीय उचित मूल्य की दुकान तियरा में बुधवार की देर रात 40 बोरा खाद्यान की कालाबाजारी करने का मामला प्रकाश में आया है। आक्रोशित उपभोक्ताओं ने सेल्समैन पर गंभीर आरोप लगाते हुए इसकी शिकायत कलेक्टर से किया गया है और कार्रवाई की मांग की गई है। उपभोक्ताओं ने बताया है कि गरीबों को मिलने वाला राशन दुकानों में पहुंच रहा है।
Villagers caught black marketing of food grains from fair price shop
Villagers caught black marketing of food grains from fair price shop
एक तरफ गरीबों को सरकार एक रुपए किलो अनाज दे रही है। वहीं दूसरी ओर उचित मूल्य की दुकानों में कोटेदार मंसा पर पानी फेर रहे हैं। उचित मूल्य की दुकान में हो रही खाद्यान्न की शिकायत करने वाले ग्रामीणों का कहना है कि दिसंबर महीना का अंतिम सप्ताह चल रहा है, लेकिन अभी तक उचित मूल्य की दुकान तियरा के आधे से अधिक उपभोक्ताओं को राशन नहीं मिला है।
बुधवार की देर रात जब कोटेदार खाद्यान की कालाबाजारी करने लगा तो ग्रामीणों ने उसे पकड़ लिया। खाद्यान्न (चावल) पास के बाजार में बिक्री के लिए ले जाया गया था। दूसरी खेप ले जाने तैयारी थी, जिसे ग्रामीणों ने पकड़ लिया। ग्रामीणों ने बताया कि बिक्री के लिए चावल ले जाते समय जमीन में गिरा था। उसी से पूरा मामला पकड़ में आया। मामला तूल पकड़ा और सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण गुरुवार को दुकान के सामने जुट गए।
वस्तुस्थिति को देखते हुए पुलिस भी मौके पर पहुंची और समझाबुझा कर ग्रामीणों को शांत कराया। इसके बाद मामले की शिकायत कलेक्टर से की गई। इधर, जिला खाद्य आपूर्ति अधिकारी इस पूरे मामले से अनजान बन रहे हैं। इससे यह साबित होता है कि अधिकारियों की सांठगांठ के चलते सेल्समैन गरीबों का हक पर डाका डाल रहे हैं।
ग्रामीणों ने शिकायत कर अधिकारियों को अवगत कराते हुए कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। बता दें कि यह कोई एक उचित मूल्य की दुकान का हाल नहीं है। इस तरह से जिले में संचालित 381 उचित मूल्य की दुकानों में से ज्यादातर में कालाबाजारी का खेल चल रहा है। खाद्य आपूर्ति अधिकारी के संरक्षण में सेल्समैन गरीबों का हक छीनकर निजी दुकानों में बेच रहे हैं। इस पर अंकुश लगाने सरकारी तंत्र आगे नहीं आ रहा है।
पहले भी हुई है खाद्यान की कालाबाजारी
उपभोक्ताओं में भोला प्रसाद यादव, रामलल्लू बैगा, श्याम कार्तिक वैश्य, अंगदलाल यादव, बिहारी लाल वैश्य, राजपति पांडो, रामनरेश पांडो, देवलाल पांडो, जशलाल पांडो, लाले प्रसाद वैश्य, जवाहिर लाल पांडो, छोटे लाल पांडो सहित अन्य ग्रामीणों का कहना है कि यह कोई नई बात नहीं है। प्रत्येक महीने गरीबों के राशन की कालाबाजारी हो रही है। विभाग के अधिकारियों से शिकायत करने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं होती है। आला अधिकारी कार्रवाई का आश्वासन देकर कोटेदार से मिलीभगत कर लेते हैं।
दुकान में 450 से अधिक उपभोक्ता
ग्रामीणों ने बताया है कि उचित मूल्य की दुकान तियरा में करीब 450 से अधिक उपभोक्ता दर्ज हैं। इसमें कई वर्ग के कार्डधारी व कूपन वाले उपभोक्ता शामिल हैं। आधे उपभोक्ताओं को राशन नहीं मिला है। उन्हें अभी तक आश्वासन मिल रहा है कि जल्द ही वितरण करेंगे लेकिन जब कोटेदार को रात के समय मेें कालाबाजारी करते हुए ग्रामीणों ने पकड़ा तो मामला तूल पकड़ लिया। बवाल होने पर पुलिस मौके पर पहुंचकर ग्रामीणों को शांत कराया और विभाग के अधिकारियों के पास शिकायत करने की सलाह दी गई।
गुर्गे लगाकर करते हैं बिक्री
तियरा व कैहाडांड़ के ग्रामीणों ने बताया है कि सेल्समैन की ओर से कालाबाजारी करना होता है तो उस दौरान रास्ते में गुर्गों को देखरेख करने के लिए लगा दिया जाता है। कुछ ऐसा ही वाकया बुधवार की रात को हुआ है। गनीमत रहा कि ग्रामीणों ने कालाबाजारी को रंगे हाथ पकड़ लिया। वहीं जब दुकान से खाद्यान लोड हो रहा था तब इसकी भनक ग्रामीणों को लग गई थी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

School Holidays in February 2022: जनवरी में खुले नहीं और फरवरी में इतने दिन की है छुट्टी, जानिए कितनी छुट्टियां हैं पूरे सालCash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीइस एक्ट्रेस को किस करने पर घबरा जाते थे इमरान हाशमी, सीन के बात पूछते थे ये सवालजैक कैलिस ने चुनी इतिहास की सर्वश्रेष्ठ ऑलटाइम XI, 3 भारतीय खिलाड़ियों को दी जगहदुल्हन के लिबाज के साथ इलियाना डिक्रूज ने पहनी ऐसी चीज, जिसे देख सब हो गए हैरानकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेश

बड़ी खबरें

टाटा ग्रुप का हो जाएगा अब एयर इंडिया, कर्मचारियों को क्या होगा फायदा और नुकसान?झारखंड में नक्सलियों ने ब्लास्ट कर उड़ाया रेलवे ट्रैक, राजधानी एक्सप्रेस सहित कई ट्रेनों का रूट बदलाBudget 2022: इस साल भी पेश होगा डिजिटल बजट, जानें कैसे होगी छपाईनागालैंड में AFSPA कानून को खत्म करने पर विचार कर रही केंद्र सरकारजिनके नाम से ही कांपते थे आतंकी, जानिए कौन थे शहीद बाबू राम जिन्हें मिला अशोक चक्रUP Police Recruitment 2022 : यूपी पुलिस में हाईस्कूल पास युवाओं के लिए निकली बंपर भर्तियां, जानें पूरी डिटेलहिजाब के बिना नहीं रह सकते तो ऑनलाइन कक्षा का विकल्प खुला : भट्टएक लाख श्रद्धालु आएं तो भी आधा घंटे में हो जाएंगे महाकाल के दर्शन
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.