वाह रे माड़ा पुलिस.... मुढ़ी में डबल मर्डर के बाद धरी में हुई युवक की निर्मम हत्या, आरोपी बेसुराग

हत्यारों ने माड़ा पुलिस को दी चुनौती, दोहरे हत्याकांड के आरोपी बेसुराग, अब हाथ-पांव मार रही पुलिस......

By: Amit Pandey

Published: 28 Feb 2021, 08:09 PM IST

सिंगरौली. इन दिनों माड़ा थाना को न जाने किसकी नजर लग गई है। बीते गुरुवार की रात मुढ़ी गांव में डबल मर्डर से थाना क्षेत्र दहल गया था। अब पड़ोस के धरी गांव में युवक की निर्मम हत्या कर दी गई। वाह रे माड़ा पुलिस, रोंगटे खड़ी कर देने वाली वारदातों के बाद भी खामोश क्यों? अभी दोहरे हत्याकांड के आरोपियों का सुराग लगा नहीं कि हत्यारों ने फिर एक हत्या की वारदात को अंजाम देकर पुलिस को खुली चुनौती दे दिया है। हत्यारों का सुराग लगाने के लिए पुलिस हाथ पांव मार रही है लेकिन शातिराना अंदाज में हत्या की वारदात को अंजाम देकर आरोपी फरार हो गए हैं। हाइटेक पुलिस के हाथ अभी तक कोई अहम सुराग नहीं लगा है। जबकि सप्ताह भर में थाना क्षेत्र में तीन हत्या के मामलों में चार लोगों की जान चली गई है।

जानकारी के मुताबिक धरी गांव निवासी गिरधारी सिंह गोंड़ पिता रायमंगल सिंह गोंड़ उम्र ३४ वर्ष शनिवार की देर रात उठकर घर से बाहर सिंचाई करने के लिए विद्युत पंप चलाने के लिए गया था। जहां घात लगाए बैठे हत्यारों ने धारदार हथियार से युवक की निर्मम हत्या कर मौके से फरार हो गए हैं। इसकी सूचना जब माड़ा पुलिस को मिली तो पुलिस के कान खड़े हो गए। आनन-फानन में भागे-भागे घटनास्थल पर पहुंचकर पुलिस हत्या का कारण जानने में जुट गई। वहीं शव का पंचनामा करने के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

तीन हत्या की वारदात में चार की मौत
माड़ा थाना क्षेत्र में इधर सप्ताहभर के भीतर सबसे पहले वनकर्मी को अज्ञात लोगों हमला कर मौत के घाट उतारकर लाश को सड़क पर फेंक दिया। इसके बाद मुढ़ी गांव में अज्ञात बदमाशों ने धारदार हथियार से प्रहार कर मां-बेटे को मौत के घाट उतार दिया। अब शनिवार की देर रात धरी गांव में विद्युत पंप लगाने गए युवक के गर्दन पर वार करते हुए हत्यारे ने उसे मौत की नींद सुला दिया है। एक सप्ताह में हुई हत्या के तीन वारदातों में वनकर्मी व मां-बेटा सहित चार की मौत हो गई है।

पूरा दिन पुलिस अधिकारियों ने किया मंथन
शनिवार की सुबह माड़ा के धरी गांव में फिर से हुई युवक की हत्या की खबर सुनकर मौके पर एसपी बीरेन्द्र सिंह व एसडीओपी राजीव पाठक सहित अन्य थाना व चौकी के प्रभारी पहुंचे। जहां एसपी ने माड़ा टीआई को सख्त निर्देश दिया है कि जल्द से जल्द आरोपियों की गिरफ्तारी करें। पूरा दिन पुलिस अधिकारियों ने हत्या करने वाले अपराधियों का सुराग लगाने पर मंथन किया है। लेेकिन पुलिस का यह मंथन कारगर साबित नहीं हो रहा है।

ग्रामीणों ने की थानेदार को हटाने की मांग
थाना क्षेत्र में लगातार हो रही हत्या की वारदातों से स्थानीय लोग सहमे हुए हैं। क्योंकि उन्हें उन्हें इस बात का डर सता रहा है कि हत्यारे बेखौफ हो गए हैं। पुलिस का खौफ नहीं रह गया है। हर दूसरे दिन लोगों की हत्या हो रही है। ऐसे में खुद को सुरक्षित कैसे कह सकते हैं। थाना क्षेत्र के ग्रामीणों ने थानेदार को हटाने की मांग किया है। हत्या की तीन घटनाओं में पुलिस एक वारदात में सड़क दुर्घटना बताकर लीपापोती कर रही है। वहीं दो घटनाओं में पुलिस को कुछ ठोस सबूत नहीं मिले हैं।

Amit Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned