चंदन चोरी मामला: आठ महिलाओं को भेजा जेल, एक आरोपी दो दिन के रिमांड पर

सिरोही. चंदन पेड़ चोरी मामले में कोतवाली थाना पुलिस ने गिरफ्तार आरोपियों को बुधवार को कोर्ट में पेश किया। जहां से आठ महिलाओं को जेल भेजा गया। वहीं एक आरोपी को दो दिन के पुलिस रिमांड पर सौंपा गया।

By: Rajuram jani

Published: 10 Jan 2019, 04:20 PM IST

सिरोही. चंदन पेड़ चोरी मामले में कोतवाली थाना पुलिस ने गिरफ्तार आरोपियों को बुधवार को कोर्ट में पेश किया। जहां से आठ महिलाओं को जेल भेजा गया। वहीं एक आरोपी को दो दिन के पुलिस रिमांड पर सौंपा गया। कोतवाली थाना प्रभारी रामप्रतापसिंह ने बताया किचंदन के पेड़ों की चोरी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का पर्दाफाश कर मध्यप्रदेश के युवक ऐकुल पुत्र दहेनी, तनुफुलबाई पत्नी धामनी, कंकोली पत्नी स्वयांग, मनचली बाई पत्नी अवतार, राखी पत्नी रजनी, ओरसनी पत्नी लोकीर, करीपना पत्नी चिन्दु, प्रिया पत्नी धन्नु, वाली पत्नी वरीसुरेन्द को गिरफ्तार किया था। आरोपियों को कोर्ट में पेश किया। जहां से महिला आरोपियों को जेल व ऐकुल को दो दिन पुलिस रिमांड पर सौंपा गया।
दो सिपाहियों की सजगता से खुला रैकेट
मामले के राजफाश को लेकर पुलिस के दो सिपाहियों की अहम भूमिका रही। दरअसल, ७ जनवरी को दो महिलाएं जिला पुलिस अधीक्षक कार्यालय स्थित मानव तस्करी निरोधक यूनिट पहुंची और उनका एक बच्चा गायब होने की फरियाद दी। खुद को गुजरात निवासी बताते हुए हवाई पट्टी के पास अस्थाई डेरे में रहना बताया। साथ ही बताया कि गुमशुदा बच्चे का आधार कार्ड व पर्स किसी अज्ञात व्यक्ति को मिले। वहीं उसी व्यक्ति ने उनको इस सम्बंध में जानकारी दी है। ऐसे में दोनों महिलाओं ने जानकारी देने वाले व्यक्ति पर उनके बच्चे को बंधक बनाने का आरोप लगाया। इस दौरान कार्यालय में मौजूद पुलिस कांस्टेबल दिनेश कुमार व मोहनलाल को उनकी बातों पर शक हुआ। जिस पर दोनों सिपाहियों ने दोनों महिलाओं को पुलिस अधीक्षक के समक्ष परिवाद पेश करने की सलाह दी। लेकिन दोनों महिलाएं आना-कानी करने लगी। ऐसे में दोनों सिपाहियों को मामला कुछ संदिग्ध लगा। जिस पर उन्होंने महिलाओं को विश्वास में लेकर एक परिवाद तैयार करवाया और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के समक्ष पेश किया। जिस पर एएसपी ने मामले की पड़ताल करवाई तो चोरी का पूरा रैकेट ही सामने आ गया।

Rajuram jani Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned