गोसेवा का संदेश, दर्शकों ने ली रक्षा की प्रतिज्ञा
सिरोही/आबूरोड. राजस्थान पत्रिका व ब्रह्माकुमारी संस्थान के संयुक्त तत्वावधान में बुधवार शाम तलहटी स्थित शांतिवन में मंचित विश्वमाता-गोमाता नृत्य नाटिका ने सभी को भाव विभोर कर दिया। गोसंरक्षण का संदेश देने वाली इस नृत्य नाटिका में कलाकारों ने पारम्परिक नृत्य के साथ समाज व जीवन में गायों का महत्व समझाया। साथ ही, गायों की देश में लगातार गिरती संख्या को लेकर दर्शकों को सोचने पर विवश कर दिया। शक्ति दर्शन योगाश्रम, किन्नीगोली, मेंगलूरु (कर्नाटक) की ओर से करीब एक घंटे चले कार्यक्रम को लोग टक-टकी लगाए देखते रहे। नाटिका के अंत में सभी दर्शकों व कलाकारों ने गोसेवा व गोरक्षण की प्रतिज्ञा ली। समारोह में मुख्य अतिथि जिला प्रमुख पायल परसरामपुरिया ने नृत्य नाटिका की सराहना करते हुए गोसंरक्षण के संदेश को आवश्यक बताया। उन्होंने कहा कि सभी अपने जीवन

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned