ग्रीष्मावकाश के बाद खुले स्कूल, पहले दिन आए आधे से भी कम विद्यार्थी , जानिए कैसे...

- जिले के विद्यालयों में मंगलवार को होगी बाल सभाएं, तैयारियां पूर्ण

By: Bharat kumar prajapat

Published: 01 Jul 2019, 08:57 PM IST

भरत कुमार प्रजापत
सिरोही.
ग्रीष्मावकाश के बाद सोमवार को जिले के सभी राजकीय स्कूल खुल गए। डेढ़ महीने की लम्बी छुट्यिों के बाद विद्यार्थी फिर उत्साह व उमंग के साथ स्कूल पहुंचे। प्रथम दिन अधिकांश स्कूलों में आधे से भी कम विद्यार्थी आए। शिक्षक व विद्यार्थी कागजी कार्रवाई व सफाई व्यवस्था में लगे दिखे।
शिक्षकों ने डोर-टू-डोर सर्वे में अभिभावकों से सम्पर्क कर नए विद्यार्थियों को स्कूल से जोडऩे की अपील की। मंगलवार को होने वाली बालसभा को लेकर शिक्षकों ने ग्रामीणों व जनप्रतिनिधियों को पीले चावल व आमंत्रण पत्र दिया गया। समग्र शिक्षा अभियान के एडीपीसी अमरसिंह देवड़ा ने बताया कि पंचायत स्तर पर होने वाली बालसभाओं के लिए विभिन्न विभागों के 132 जिला स्तरीय अधिकारियों को प्रभारी नियुक्त किया है। ये सुबह बालसभा में मॉनिटरिंग करेंगे। वहीं पंचायत के अंतर्गत प्राथमिक व उच्च प्राथमिक स्कूलों में बालसभा की मॉनिटरिंग संबंधित पीईईओ के सम्बलन कार्यकर्ता करेंगे। बालसभा में प्रवेश बढ़ाने, राजीव गांधी कॅरियर पोर्टल, स्कूल की उपलब्धि, प्रतिभावान विद्यार्थियों का सम्मान, अन्य स्कूली गतिविधियां की जानकारी दी जाएगी। देवड़ा ने बताया कि शिक्षा मंत्री की ओर से बालसभा को लेकर आमंत्रण पत्र जिला मुख्यालय पर भेजे गए हैं। संबंधित पीईईओ को भेज कर जनप्रतिनिधियों को बुलाने के निर्देश दिए हंै।

यह रही स्थिति

- राजकीय प्राथमिक विद्यालय नवा खेड़ा (आरटीओ कार्यालय के पास) में पहली से पांचवीं तक कक्षाएं संचालित हैं। नामांकन 18 है। प्रथम दिन 11 विद्यार्थी ही उपस्थित थे। संस्था प्रधान गीता चौहान व शिक्षक जशोदा पवार ने बताया कि प्रथम दिन 3 नए विद्यार्थियों को प्रवेश दिया गया।

- राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय वेरापुरा में पहली से आठवीं तक कक्षाएं संचालित हैं। नामांकन 73 है लेकिन प्रथम दिन केवल 19 विद्यार्थी ही उपस्थित मिले। संस्था प्रधान भीखाराम कोली ने बताया कि मंगलवार की बालसभा की तैयारियां कर रहे हैं। प्रथम दिन एक विद्यार्थी को प्रवेश दिया गया।

- राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय माकरोड़ा में पहली से बारहवीं तक कक्षाएं संचालित हैं। संस्था प्रधान विजय कुमार शर्मा ने बताया कि नामांकन 307 है। प्रथम दिन 97 विद्यार्थी ही आए। चार नए बच्चों को प्रवेश दिया गया।

-राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय धांता में पहली से आठवीं तक नामांकन 239 है। प्रथम दिन 113 विद्यार्थी उपस्थित थे। संस्था प्रधान जितेन्द्रसिंह कोटेसा ने बताया कि प्रथम दिन छह बच्चों को प्रवेश दिया गया। मंगलवार को मुख्य चौराहे पर होने वाली बालसभा में आने के लिए शिक्षक सुनीता, सुमिता सेवदा व उमेश कुमार ने ग्रामीणों को पीले चावल व आमंत्रण पत्र दिया। इस दौरान मदनसिंह कोटेसा, सुनीता जीनगर, प्रेमलता शर्मा, थानाराम देवासी, रेणू कुमारी, सुमन, निर्मल कंवर मौजूद थे।

- राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय सिंदरथ में पहली से बारहवीं तक कक्षाएं संचालित हैं। प्रधानाचार्य नंदिता माथुर ने बताया कि अब तक नामांकन 388 है लेकिन प्रथम दिन में 68 विद्यार्थी उपस्थित रहे। माथुर ने बताया कि बालसभा को लेकर तैयारियां कर ली हैं। ग्रामीणों को आमंत्रण पत्र दिया है। प्रथम दिन 14 विद्यार्थियों को प्रवेश दिया गया। शिक्षक जितेन्द्र कुमार ने बताया कि पीईईओ क्षेत्र के स्कूलों में प्रथम दिन 38 विद्यार्थियों को प्रवेश दिया गया।

Bharat kumar prajapat Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned