अब छुट्टी का पावर शिक्षक के पास

अब छुट्टी का पावर शिक्षक के पास
sirohi

Mukesh Kumar Sharma | Updated: 04 Jun 2015, 11:44:00 PM (IST) Sirohi, Rajasthan, India

मानसून को लेकर इस बार जिला प्रशासन ने संस्था प्रधानों को अलर्ट रहने को कहा है। साथ ही निर्देश दिए है

सिरोही।मानसून को लेकर इस बार जिला प्रशासन ने संस्था प्रधानों को अलर्ट रहने को कहा है। साथ ही निर्देश दिए है कि यदि बाढ़ या अतिवृष्टि जैसी स्थिति उत्पन्न हो जाए तो संस्था प्रधान स्वयं के स्तर पर फैसला ले सकते है। साथ ही वहां की स्थिति को देखकर स्कूल की छुट्टी भी बिना प्रशासन आदेश के कर सकते है।


इसमें यह ध्यान रखना होगा कि पढ़ाई शुरू होने के दौरान यदि बरसात आ जाए तो दूर-दराज से आने वाले बच्चों को घर भेजने के लिए शिक्षकों को अभिभावकों से सम्पर्क कर उनके साथ घर भेजना होगा। मानसून तक शिक्षक मुख्यालय नहीं छोड़ पाएंगे। इसके लिए सबंधिंत शिक्षक का अवकाश भी जिला स्तर पर स्वीकृत होगा।

यह करनी होगी व्यवस्था


संस्था प्रधानों को स्कूल के छत की सफाई करानी होगी। ताकि बारिश के कारण छत पर जल भराव की स्थिति पैदा न हो। टंकी, नाले आदि के साफ-सफाई की व्यवस्था करनी होगी। बाढ़ से बचाव के लिए विद्यार्थियों को प्रार्थना सभा में मानसून के समय आवश्यक दिशा-निर्देश देंगे। बाढ़ या अतिवृष्टि की स्थिति में स्कूलों में पढ़ने वाले एवं छात्रावासों में रहने वाले बच्चों की सुरक्षा भी अपने स्तर पर
करनी होगी।

ग्राम सेवक या पटवारी को देनी होगी चाबी


आपदा के दौरान विद्यालय भवनों के उपयोग करने के लिए स्कूलों की चाबी को ग्राम सेवक या पटवारी की ओर से मांगने पर देनी होगी। साथ ही फिल्ड स्टाफ को मुख्यालय पर रहने के लिए पाबंद किया गया है। संस्था प्रधानों की ओर से बाढ़ या अतिवृष्टि की गंभीर स्थिति के दौरान स्कूल या छात्रावासों में बच्चों की सुरक्षा करनी होगी। परिस्थितियों को देखते हुए आवश्यकतानुसार संस्था प्रधान अपने स्तर पर निर्णय लेना होगा।


इन्होंने बताया...


मानसून सत्र को लेकर दिशा-निर्देश दिए गए है। संस्था प्रधान आपदा के समय स्वविवेक से अपने स्तर पर निर्णय ले सकते है। स्कूलों में व्यवस्था भी करवानी होगी। -दिनेश्वर पुरोहित, एडीईओ (प्रारम्भिक) सिरोही

लक्ष्मण सैन

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned