scriptone day training for school and college teachers | निरोगी राजस्थान अभियान : देश में हर साल 15 लाख लोगों की नशे से होती है मौत | Patrika News

निरोगी राजस्थान अभियान : देश में हर साल 15 लाख लोगों की नशे से होती है मौत

युवा पीढ़ी को नशे के चंगुल से बचाए रखना बड़ी चुनौती: सीएमएचओ डॉ. राजेश कुमार
- तंबाकू मुक्त राजस्थान सौ दिवसीय कार्ययोजना के अंतर्गत एक दिवसीय प्रशिक्षण आयोजित
- चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, सिरोही और ब्रह्माकुमारीज के मेडिकल विंग का संयुक्त आयोजन
- जिलेभर हाई और हायर सेकंडरी स्कूल के प्राचार्य, नर्सिंग कॉलेज प्राचार्य, डॉक्टर और नोडल अधिकारी हुए शामिल

सिरोही

Published: May 18, 2022 04:53:40 pm

आबूरोड. निरोगी राजस्थान अभियान के तहत चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, सिरोही और ब्रह्माकुमारीज के मेडिकल विंग द्वारा संयुक्त रूप से एक दिवसीय प्रशिक्षण आयोजित किया गया। इसमें जिलेभर के सेकंडरी और सीनियर सेकंडरी स्कूल के प्रधानाध्यापक, प्राचार्य, नर्सिंग कॉलेज के प्राचार्य, डॉक्टर और स्वास्थ्य विभाग के नोडल अधिकारियों ने भाग लिया। इसमें विषय विशेषज्ञों ने प्रतिभागियों को तंबाकू के सेवन से होने वाले शारीरिक और मानसिक दुष्प्रभाव, हानि आदि को लेकर जरूरी बातें बताईं।
शुभारंभ सत्र में जिला चिकित्सा एवं मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. राजेश कुमार ने कहा कि मुझे विश्वास है कि यहां से प्रशिक्षण लेने के बाद आप सभी शिक्षकगण इसे अपने-अपने स्कूलों में लागू करेंगे। आज भावी युवा पीढ़ी को नशे के चंगुल से बचाए रखना हम सभी के लिए बहुत बड़ी चुनौती है। लेकिन हम सभी मिलकर प्रयास करेंगे तो इस चुनौती से आसानी से निपटा जा सकता है।
निरोगी राजस्थान अभियान : देश में हर साल 15 लाख लोगों की नशे से होती है मौत
निरोगी राजस्थान अभियान : देश में हर साल 15 लाख लोगों की नशे से होती है मौत

देश में हर साल 15 लाख लोगों की नशे से होती है मौत-
नेशनल टोबेको कंट्रोल प्रोग्राम (एनटीसीपी) के स्टेट नोडल ऑफिसर डॉ. एसएन ढोलपुरिया ने कहा कि भारतभर में एक साल में तंबाकू के सेवन से 15 लाख लोगों की मौत हो जाती है। डेनमार्क एक ऐसा देश है जहां सभी तरह के तंबाकू उत्पादों पर सरकार ने प्रतिबंध लगाया है। यदि हमें मौतों के इन आंकड़ों को नियंत्रित या कम करना है तो सख्ती से कदम उठाने होंगे। समाज के सभी वर्ग के लोगों को तंबाकु मुक्ति के लिए मिलकर प्रयास करना होंगे। इसलिए सरकार ने शासकीय सेकंडरी और सीनियर सेकंडरी विद्यालयों के साथ कार्ययोजना बनाई है। एक सर्वे के मुताबिक राजस्थान में 6वीं से 12वीं कक्षा तक के 300 से अधिक बच्चे एक दिन में नशा करते हैं। यदि हमें इसे रोकना है तो प्रत्येक विद्यालय, शिक्षक और प्राचार्यों के मिलकर सख्त कदम उठाना होंगे। बच्चों की काउंसलिंग करके, हर सप्ताह प्रतियोगिताएं आयोजित करके उन्हें तंबाकू सेवन से होने वाले दुष्परिणामों से अवगत कराना होगा। मीठी सुपाड़ी से शुरू हुई आदत नशे के दल-दल की ओर ले जाती है।

ब्रह्माकुमारीज संस्थान हर संभव मदद के लिए तैयार-
ब्रह्माकुमारीज के मेडिकल विंग के कार्यकारी सचिव बीके डॉ. बनारसी लाल ने कहा कि राजस्थान के नशामुक्त करने के लिए संस्थान सरकार के साथ कदम से कदम मिलाकर चलने के लिए तैयार है। जिस भी स्तर पर नशामुक्ति के लिए हमारी सेवाओं की जरूरत हो हम मदद के लिए तैयार हैं। इसके लिए मेडिकल विंग की ओर से कई अभियान चलाए भी जा रहे हैं। साथ ही हमारे यूथ विंग की ओर से भी युवाओं के लिए नशामुक्ति अभियान चलाया जा रहा है। जयपुर से आए डॉ. कार्तिक ने पीपीटी के माध्यम से बताया कि कैसे निरोगी राजस्थान अभियान की डाटा इंट्री से लेकर इसे अपने विद्यालय में लागू करना है। एसआरकेपीएस के डायरेक्टर राजन चौधरी ने भी तंबाकू से होने वाले दुष्परिणामों को बताया। टिओन की डॉ. सुरभि सोमानी ने तंबाकू का शारीरिक नुकसानों को गहराईपूर्वक बताया। ट्रॉम
बता दें कि निरोगी राजस्थान अभियान को लेकर चिकित्सा एंव स्वास्थ्य मंत्री परसादी लाल मीणा ने भी प्रदेशभर के सीएमएचओ को पत्र जारी कर इस अभियान को गति देने पर प्रत्येक विद्यालय में इसे लागू करने के निर्देश दिए हैं। इसके तहत ग्राम स्तर तक जनजागरूकता के लिए सौ दिवसीय कार्ययोजना भी बनाई गई है।
विशेषज्ञों ने तंबाकू छोडऩे के लिए दिए ये सुझाव-
- तंबाकू युक्त वस्तुओं का सेवन न करें।
- अपने पास मिश्री, सौंप या इलाइची रखें।
- सप्ताह में एक दिन से तंबाकू छोडऩे की शुरुआत करें। आगे धीरे-धीरे छोड़ते रहें।
- ऐसे लोगों से दोस्ती रखें जो आपकी आदत छुड़ाने में मदद करे।
- उन जगहों और लोगों से दूर रहें जो तंबाकू तलब की याद दिलाए।
- तलब लगने पर चार बातें याद रखें- तंबाकू के उपयोग में देर करें, लंबी सांसें लें, धीरे-धीरे पानी पीएं, अपना ध्यान किसी दूसरी ओर लगाएं।
- अपने रोजाना के कार्यक्रम में तब्दीली लाएं और सुबह सौर के लिए जाएं।
- अपना इरादा पक्का रखें।
निरोगी राजस्थान अभियान : देश में हर साल 15 लाख लोगों की नशे से होती है मौत

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Mukhtar Abbas Naqvi ने मोदी कैबिनेट से दिया इस्तीफा, बनेंगे देश के नए उपराष्ट्रपति?काली पोस्टर विवाद में घिरीं महुआ मोइत्रा के समर्थन में आए थरूर, कहा- 'हर हिन्दू जानता है देवी के बारे में'यूपी को बड़ी सौगात, काशी को 1800 करोड़ की परियोजनाओं की सौगात देंगे पीएम Modi, बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का करेंगे लोकार्पणDelhi Shopping Festival: सीएम अरविंद केजरीवाल का बड़ा ऐलान, रोजगार और व्यापार को लेकर अगले साल होगा महोत्सवशिखर धवन बने टीम इंडिया के नए कप्तान, वेस्टइंडीज दौरे के लिए भारतीय टीम का हुआ ऐलानकौन हैं डॉ. गुरप्रीत कौर, जो बनने जा रही हैं भगवंत मान की दुल्हनिया? सामने आई तस्वीरसलमान के वकील को लॉरेंस गुर्गों की धमकी, मूसेवाला हाल करेंगेDGCA का SpiceJet को कारण बताओ नोटिस, 18 दिनों में 8 बार आई प्लेन में खराबी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.