महंगाई की मार, फिर बढ़ी पेट्रोल-डीजल की कीमतें

जनता पर पेट्रोल-डीजल दाम की मार

By: mahesh parbat

Published: 24 May 2018, 09:06 AM IST

सिरोही. कर्नाटक विधानसभा चुनाव के बाद डीजल-पेट्रोल की कीमतों में उछाल आने लगा है। प्रतिदिन इसके दाम बढ़ रहे हैं। ऐसे में जनता पर महंगाई की मार पड़ रही है। हालात यह है कि पिछले १० दिन में पेट्रोल के भाव ८३.६९ व डीजल के भाव ७३.७१ रुपए प्रति लीटर के सर्वोच्च स्तर पर पहुंच गए हैं।
दोनों पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों में रोजाना आ रहे उछाल के चलते समाज हर वर्ग खुद को आहत महसूस कर रहा है। दिलचस्प तथ्य यह है कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव के दौरान पेट्रोल- डीजल के दाम करीब बीस दिनों तक स्थिर रहे, लेकिन चुनाव सम्पन्न होते ही कंपनियों ने दामों में रोजाना इजाफा करना शुरू कर दिया। आमजन का मानना है कि ऐसे ही कीमतों में इजाफा होता रहा तो अन्य वस्तुओं के दाम भी आसमान छू जाएंगे। इससे निम्न और मध्यम वर्ग का जीना मुश्किल हो जाएगा।
बिगडऩे लगा घर का बजट
दिन प्रति दिन बढ़ते पेट्रोल-डीजल के दामों के कारण आम आदमी का बजट गड़बड़ा जाएगा। वैसे भी कीमत आसमान छू रही है। ऐसे में महंगाई और बढ़ जाएगी। जिससे घरेलू बजट भी गड़बड़ा गया है।
रोज बदलते हैं भाव
तेल कंपनियों की ओर से पिछले अर्से से लागू की गई व्यवस्था के तहत अब पेट्रोल और डीजल के भाव रोजाना यानी २४ घंटे में परिवर्तित हो जाते हैं। प्रतिदिन सवेरे ६ बजे से लए भाव पम्प पर अंकित हो जाते हैं।
भाव पर एक नजर
दिनांक पेट्रोल डीजल

14 קüU 78.51 71.41
15 78.66 71.64
16 78.81 71.86
17 79.04 72.09
18 79.33 72.40
19 79.64 72.64
20 79.98 72.91
21 80.31 73.17
22. 82.62 73.44
23. 80.93 73.71

कांग्रेस का प्रदर्शन आज
पेट्रोल-डीजल व रसोई गैस की बढ़ती कीमतों तथा महंगाई के विरोध में कांग्रेस की ओर से नगर परिषद के बाहर प्रदर्शन किया जाएगा। इसके बाद रैली निकालकर जिला कलक्टर को ज्ञापन दिया जाएगा।

&लगातार पेट्रोल के दाम बढऩे से बिक्री में कमी आ रही है। पेट्रोल डीजल अत्यावश्यक जरूरी है। कर में कमी कर दी जाएं, तो दाम कम हो सकते हैं।
-सुरेन्द जैन, पेट्रोल पंप संचालक सिरोही

mahesh parbat
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned