scriptPlots are given to build houses, but commercial complexes are being bu | भूखंड दिए आशियाने बनाने को, पर बन रहे हैं कॉमर्शियल काम्पलेक्स | Patrika News

भूखंड दिए आशियाने बनाने को, पर बन रहे हैं कॉमर्शियल काम्पलेक्स

प्रशासन की मौन स्वीकृति से भू-माफिया काट रहे चांदी- अब तक बने सभी काम्प्लेक्स में नहीं बने पार्किंग व मूत्रालय-शौचालय

सिरोही

Published: March 28, 2022 03:17:10 pm

मंडार. प्रशासन में बैठे अधिकारी अपनी स्वार्थी नीति के कारण कानून व नियमों को ताक में रखने वाले भू-माफियाओं के आगे कुछ भी नहीं कर पा रहे हैं। या तो वे लाचार है या बेबस या फिर जानबुझकर कार्रवाई करने से ही कतरा रहे हैं। ऐसी हालत में इनकी मौन स्वीकृति के कारण मंडार में अब तक आवासीय मकानों व भूखंडों पर बनी व्यवसायिक दुकानों व काम्पलेक्स की भरमार हो गई। विडम्बना तो यह है कि इन दुकानों व काम्पलेक्स में पार्किंग व मूत्रालय-शौचालय की कोई व्यवस्था ही नहीं की गई। अधिकारियों की मौन स्वीकृति के कारण ही आज तक समाचार पत्रों व ग्रामीणों की लिखित व मौखिक शिकायत के बावजूद वे कभी हरकत में नहीं आए। कार्रवाई करना तो दूर की बात है। सिर्फ अपना वर्जन देने और उसमें चेतावनी देने के सिवाय कोई ठोस कार्रवाई नहीं की। जिससे अब भू-माफिया व अधिकारियों के बीच साठगांठ होने की बू आने लगी है। मंडार में करीब आधा दर्जन आवासीय भूखंडों पर या तो काम्पलेक्स व दर्जनों व्यवसायिक दुकानें बन चुकी हैं अथवा निर्माणाधीन है। भू-माफिया ऐसी आवासीय जगह लाखों में खरीदकर निर्माण से पूर्व ही करोड़ों में बेच देते हैं। यही कारण है कि बाजार में भूखंड बीस हजार रुपए प्रति फीट की दर पर बिक रहे हैं। अब तक ऐसे खरीदने व बेचने वाले सरकार को करोड़ों का चूना लगा चुके हैं। अधिकारी भी सबकुछ जानते हुए भी कार्रवाई के नाम पर उसे ठंडे बस्ते में डालते आ रहे है। जिससे अब प्रशासन का डर शून्य के बराबर रह गया है। ऐसे में भू-माफियाओं के हौसले बुलन्द है तथा कस्बे का सौंदर्य बिगड़ता जा रहा है।
मंडार. आवासीय भूखंडों पर हो रहा काम्पलेक्स का निर्माण।
मंडार. आवासीय भूखंडों पर हो रहा काम्पलेक्स का निर्माण।
नियम विरुद्ध निर्माण से बिगड़ रहा कस्बे का लुकआसपास गांवों से सौदा लेने आने वालों को मूत्रालय की तलाश में दर-दर भटकना पड़ता हैं। विशेषकर महिलाओं को भारी परेशानी उठानी पड़ती है। नियम विरुद्ध निर्माण होने से कस्बे का ढांचा भी बिगड़ रहा है। दिलचस्प बात तो यह है कि यहां पंचायत से आवासीय मकान बनाने की स्वीकृति लेकर काम्पलेक्स बन रहे हैं। कार्रवाई के नाम पर महज कार्रवाई का भरोसा दिलाया जाता है। भरोसा दिलाने के बावजूद कार्रवाई नहीं करने से उल्टा भू माफियाओं को शह मिल रही है।
इनका कहना है ...

यदि कॉमर्शियल काम्पलेक्स पार्किंग व मूत्रालय की व्यवस्था नहीं की है तो गलत है। जांच कर जल्द नियमानुसार कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। निर्माणाधीन काम्पलेक्स मालिकों को भी नियमानुसार पार्किंग व मूत्रालय की सुविधा सुलभ कराने के लिए पाबंद किया जाएगा।
- मनहर विश्नोई, बीडीओ, रेवदर.

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

BJP राष्ट्रीय पदाधिकारी बैठक: PM नरेंद्र मोदी ने दिया 'जीत का मंत्र', जानें प्रधानमंत्री के संबोधन की बड़ी बातेंRoad Rage Case: नवजोत सिंह सिद्धू ने सरेंडर के लिए कोर्ट से मांगा वक्त, खराब सेहत को बताया कारणलालू के ठिकानों पर CBI Raid; सामने आई RJD की पहली प्रतिक्रिया, मात्र 5 शब्द में पूरे सिस्टम को लपेटाअनिल बैजल के इस्तीफे के बाद कौन होगा दिल्ली का उपराज्यपाल? चर्चा में हैं ये 5 नामबेंगलुरू हवाईअड्डे को बम से उड़ाने की धमकी, अधिकारियों ने शुरू की जांचलालू यादव पर फिर शिकंजा, सीबीआई ने राजद सुप्रीमो से जुड़े 17 ठिकानों पर मारा छापाRaj Thackeray Ayodhya Visit: राज ठाकरे की अयोध्या यात्रा स्थगित, पांच जून को रामलला का दर्शन करने वाले थे मनसे प्रमुखAzam Khan Release: दो साल बाद जेल से रिहा हुए आजम खान, दोनों बेटों ने किया रिसीव, शिवपाल भी पहुंचे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.