scriptThe bells rang in schools after 50 days of holidays. | 50 दिन की छुट्टियों के बाद स्कूलों में बजी घंटियां, पहले दिन आधे से भी कम आए छात्र | Patrika News

50 दिन की छुट्टियों के बाद स्कूलों में बजी घंटियां, पहले दिन आधे से भी कम आए छात्र

  • - पहले दिन विद्यार्थियों की संख्या रही नगण्य, नए विद्यार्थियों का दाखिला
  • - कई स्कूलों में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी का पद नहीं-पहले दिन विद्यार्थियों व पोषाहार पकाने वाली महिलाओं ने मिलकर की सफाई

सिरोही

Published: July 02, 2022 04:23:23 pm

सिरोही. ग्रीष्मकालीन अवकाश के बाद जिलेभर के विद्यालयों में शुक्रवार रौनक लौट गई। अलसुबह से ही विद्यार्थी तैयार होकर बैग लेकर अपनी-अपनी स्कूल के लिए रवाना हो गए। ऐसे में विद्यार्थियों के चेहरे पर खुशी देखने को मिली। जैसे ही विद्यालय में घंटी बजी छात्र कक्षा की ओर से दौड़ पड़े। गर्मी में 50 दिन के अवकाश के बाद स्कूल में पहला दिन होने से विद्यार्थियों की संख्या नगण्य रही। नामांकन से आधे से भी कम विद्यार्थी आए। वहीं कई स्कूलों में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी का पद नहीं होने से शिक्षकों के मार्ग दर्शन में पोषाहार पकाने वाली महिलाओं व विद्यार्थियों ने मिलकर की विद्यालय की सफाई की। प्रवेशोत्सव को लेकर नए विद्यार्थियों को प्रवेश दिया गया।
50 दिन की छुट्टियों के बाद स्कूलों में बजी घंटियां, पहले दिन आधे से भी कम आए छात्र
सिरोही. पिपकली स्कूल में बैठक नगण्य विद्यार्थी
राप्रावि नवा खेड़ा : नामांकन 23, उपस्थिति 10, समय : 8.31 मिनट

सिरोही शहर के समीप राप्रावि नवा खेड़ा का कुल नामांकन 23 है। लेकिन प्रथम दिन केवल 10 विद्यार्थी उपस्थित मिले। इस दौरान विद्यालय की संस्था प्रधान गीता चौहान स्कूल में आए अभिभावक चम्पत परमार के बच्चे को पहली में प्रवेश प्रक्रियां करवाती दिखी। चौहान ने बताया कि नामांंकन बढ़ाने के लिए घर -घर जाकर सर्वे कर बच्चों को प्रेरित कर रहे हैं। इस दौरान उपस्थित विद्यार्थी कक्षाओं में बैठक कर आपस में खेल रहे थे। बच्चे कम होने से कक्षाओं को शामिल बिठाया गया था।
राउमावि रामपुरा : नामांकन 88, उपस्थित 20, समय : 8.50

राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय रामपुरा के द्वितीय परिसर(भूतेश्वर महादेव मंदिर के सामने) संचालित है। जिसमें पहली से पांचवीं तक के विद्यार्थी पढ़ते हैं। जिसमें नामांकन 88 है। लेकिन प्रथम दिन शुक्रवार को केवल 20 विद्यार्थी ही उपस्थित मिले। स्कूल के अध्यापक नारायणलाल ने बताया कि ग्रीष्मकालीन अवकाश के बाद विद्यालय का पहला दिन होने से बच्चे बहुत कम आए हैं। स्कूल के द्वितीय परिसर में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी नहीं होने से सफाई करने में काफी परेशानी होती है। ऐसे में विद्यार्थी मिलकर स्कूल की सफाई का कार्य करते हैं।
राउप्रावि अणगौर : नामांकन 201, उपस्थिति 140, समय 9.31

राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय अणगौर का कुल नामांकन 201 का है। जिसमें प्रथम दिन 140 विद्यार्थी उपस्थित मिले। शिक्षक के शारीरिक शिक्षक छैलसिंह देवड़ा ने बताया कि ग्रीष्मकालीन अवकाश में मिड-डे-मिल शुरू होने से विद्यार्थियों का जुड़ाव स्कूल से लगातार बना रहा। जिससे प्रथम दिन भी विद्यार्थियों की संख्या आधे से अधिक रही। देवड़ा ने बताया कि स्कूल में चतुर्थ श्रेणी का पद कार्यरत नहीं होने से प्रथम दिन शिक्षकों के निर्देश में विद्यार्थियों व पोषाहार पकाने वाली महिलाओं ने मिलकर सभी कक्षा-कक्ष की सफाई की।प्रवेशोत्सव को लेकर सर्वे किया जा रहा है। प्रथम दिन पहली में एक विद्यार्थी को नया प्रवेश दिया गया। विद्यार्थियों को किताबें वितरित की गई।
राउप्रावि पिपलकी : नामांकन 65, उपस्थित 19, समय : 10 बजे

राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय पिपलकी का नामांकन 65 का है। लेकिन प्रथम दिन केवल 19 विद्यार्थी ही उपस्थित थे। ऐसे में विद्यालय में विद्यार्थियों की संख्या नगण्य दिखी। वहीं विद्यालय में सात शिक्षक कार्यरत हैं। वहीं प्रत्येक कक्षा में इक्के दुक्के विद्यार्थी नजर आए। प्रथम दिन पहली में एक विद्यार्थी को प्रवेश दिया गया। उधर राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय का नामांकन 607 है लेकिन केवल 32 विद्यार्थी ही मौजूद थे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

'इनकी पुरानी आदत है पूरे सिस्टम पर हमला करने की', कपिल सिब्बल के बयान पर बोले कानून मंत्री किरेण रिजिजूअरविंद केजरीवाल ने कहा- देश की राजनीति में परिवारवाद और दोस्तवाद खत्म कर भारतवाद लाएंगेMaharashtra Cabinet Expansion: कल हो सकता है शिंदे मंत्रिमंडल का विस्तार, CM आवास पहुंचे देवेंद्र फडणवीसAmit Shah Visit To Odisha: अमित शाह बोले- ओडिशा में अच्छे दिन अनुभव कर रहे लोग, सीएम नवीन पटनायक की तारीफ भी की'नीतीश BJP का साथ छोड़े तो हम गले लगाने को तैयार', बिहार में मचे सियासी घमासान पर बोले RJD नेता शिवानंद तिवारीगालीबाज भाजपा नेता पर रखा गया 25 हजार का इनाम, 40 टीमें तलाश में जुटीTET घोटाले में हुआ बड़ा खुलासा, शिंदे गुट के विधायक अब्दुल सत्तार की बेटियों के नाम आए सामने, शिवसेना ने बोला हमलाShirdi Flood: शिरडी में भारी बारिश से हाहाकार, सरकारी विश्राम गृह और साईं प्रसादालय पानी में डूबा, देखें तस्वीरें
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.