scriptThe team formed on the instructions of NGT re-examined the hotels of M | एनजीटी के निर्देश पर गठित टीम ने माउंट आबू के होटलों की फिर से की जांच | Patrika News

एनजीटी के निर्देश पर गठित टीम ने माउंट आबू के होटलों की फिर से की जांच

एसडीएम व डीएफओ के नेतृत्व में दल ने लिया जायजा

जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में हुई बैठक में फिर से निरीक्षण का लिया था निर्णय

सिरोही

Published: June 16, 2022 03:08:34 pm

माउंट आबू. हिल स्टेशन माउंट आबू में माली कॉलोनी, अंबेडकर कॉलोनी, स्ट्रीट वेंडर सहित अनेक अतिक्रमण, अवैध निर्माण व कृषि भूमि पर संचालित व्यावसायिक उपयोग को लेकर एनजीटी में पहुंचे लोकेंद्र सिंह बनाम राज्य सरकार के मामले को लेकर एनजीटी के निर्देश पर गठित टीम ने बुधवार को एसडीएम कनिष्क कटारिया व वन विभाग के उप वन संरक्षक विजय शंकर पांडे के नेतृत्व में 7 होटलों का मौके पर पहुंच एक बार फिर निरीक्षण कर जानकारी जुटाई। अब टीम शुक्रवार तक जिला कलक्टर को पूरे मामले की अंतिम रिपोर्ट देगी। इससे पूर्व जिला प्रशासन द्वारा गठित उपसमिति ने भी जांच की थी, जिसकी रिपोर्ट भी जिला कलक्टर को सौंप दी गई है। बुधवार को टीम ने हरीनिवास, कनक डाइनिंग, हमिंग बर्ड, अचल रिसोर्ट, आबूराज फार्म रिसोर्ट, मनवार गार्डन रिसोर्ट व ऋषि वैली होटल पहुंचकर मौके पर नक्शा और दस्तावेज के निरीक्षण के साथ मौके पर तरमिम कर होटलों का जायजा लिया। टीम में एसडीएम कनिष्क कटारिया व डीएफओ विजय शंकर पांडे के नेतृत्व में प्रदूषण नियंत्रण मंडल के क्षेत्रीय अधिकारी राहुल शर्मा, नायब तहसीलदार कुंज बिहारी झा सहित अलग-अलग विभागों के कई अधिकारी व कर्मचारी मौजूद थे।
एनजीटी के निर्देश पर गठित टीम ने माउंट आबू के होटलों की फिर से की जांच
एनजीटी के निर्देश पर गठित टीम ने माउंट आबू के होटलों की फिर से की जांच
बैठक में लिया था फिर से जांच का निर्णय

जिला प्रशासन द्वारा गठित उप समिति ने रिपोर्ट पेश करने के बाद गत मंगलवार को जिला कलक्टर की अध्यक्षता में मुख्य समिति व उप समिति की बैठक हुई थी। जिसमें अलग-अलग विभागों के अधिकारियों ने उप समिति के मार्फत रिपोर्ट सौंपी थी। उसके बाद मुख्य समिति ने फिर से इस मामले की एक बार जांच कर रिपोर्ट तैयार करने का निर्णय लिया था। उसी के तहत बुधवार को मुख्य समिति के अधिकारियों ने यह निरीक्षण किया। अब अंतिम रिपोर्ट तैयार कर जिला कलक्टर भंवरलाल की अगुवाई में 11 जुलाई को एनजीटी में पेश की जाएगी।
यह है पूरा मामला

एनजीटी में दर्ज माउंट आबू के वर्तमान प्रकरण में अवैध निर्माण, कृषि भूमि पर बिना सक्षम स्तर के निर्माण व व्यवसायिक उपयोग सहित अन्य गतिविधियों का उल्लेख किया गया है। साथ ही संपूर्ण अधिसूचना के उल्लंघन का विस्तार से उल्लेख किया गया है। जिसको लेकर प्रशासन से एनजीटी ने जवाब पेश करने को कहा है। वहीं जुलाई महीने में होने वाली पेशी से पूर्व प्रशासन ने तैयारियां शुरू करते हुए नोटिस जारी किए थे और उसके बाद अब टीम गठित कर मौके से रिपोर्ट बनवाने व जांच करने का कार्य भी शुरू कर दिया है। बुधवार शाम तक टीम द्वारा पूरे मामले की जांच पड़ताल कर दी गई है। इससे पूर्व गत शनिवार को भी उप समिति द्वारा पूरे मामले की जांच की गई है।
इन्होंने बताया...

मुख्य समिति द्वारा सभी 7 होटलों का निरीक्षण किया गया। साथ ही दस्तावेजों को खंगाला गया। प्रथम दृष्टया कई जगह पर आपत्तियां पाई गई हैं। दो दिन में रिपोर्ट को फाइनल रूप दिया जाएगा।
- विजय शंकर पांडे, डीएफओ, वन विभाग, माउंट आबू

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Bypoll results 2022 LIVE: आंध्र प्रदेश के आत्मकुर से YSRCP के मेकापति विक्रम रेड्डी जीते, यूपी की दोनों सीटों पर सपा पीछेMaharashtra Political Crisis: गुवाहाटी से ही रणनीति बनाने में जुटे बागी विधायक, दिल्ली पहुंच सकते हैं बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीसMaharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र के सियासी संग्राम में अब उद्धव की पत्नी रश्मि ठाकरे की हुई एंट्री, बागी विधायकों की पत्नियों से फोन पर की बातसिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद, फिर से सामने आया कनाडाई (पंजाबी) गिरोहबिहार ड्रग इंस्पेक्टर के घर पर छापेमारी, 4 करोड़ कैश और 38 लाख के गहने बरामदAzamgarh Rampur By Election Result : रामपुर और आजमगढ़ में भाजपा और सपा के बीच कड़ा मुकाबला35 साल बाद कोई तेज गेंदबाज करेगा भारतीय टीम का नेतृत्व, एक साल के अंदर बदले 7 कप्तानमेरे पास ममता बनर्जी को मनाने की ताकत नहीं: अमित शाह
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.